राजस्थान की पारंमपरिक कलाएं

From Jatland Wiki
Jump to: navigation, search
  • राजस्थानी नाटक : पारम्परिक / लोक कला :
    • क़ुचामणी ख्याल
    • रम्मत बीकानेर
    • तुर्रा कलंगी चितौड
    • तमाशा जयपुर
    • तमाशा जयपुर
    • अलिबक्श ख्याल अलवर
    • हेलाख्याल शेखावटी
  • राजस्थानी पारंमपरिक कला :
    • क़ठपुतली
    • बहुरूपिया
    • लोक कथा वाचन
    • बातपोसी/कहानी
    • चारबेंत टोक
    • भोपा गायन
    • नट करतब
    • ज़ादू
    • नुक्कड नाटक
    • आ़गी गैर
  • राजस्थानी पारंपरिक / लोक / आदिवासी नृत्य :
    • तेराताल
    • भवाई
    • चरी
    • घूमर
    • कालबेलिया
    • चंग - शेखावटी
    • गैर
    • चरकुला
    • कच्छीघोडी
    • सूकर
    • बमरसिया
    • वीर तेजाजी
    • भरत गायन
    • गेर घूमरा
    • गींदड़
    • अग्नि नृत्य
    • गरासिया
    • कथोडी
    • स्वांग
    • ढोल नृत्य
    • ग़वरी नृत्य

Back to Rajasthani Folk Lore


Back to Resources