Results 1 to 16 of 16

Thread: Jat – 36 Koum Ka Jamai !!

  1. #1

    Smile Jat – 36 Koum Ka Jamai !!

    (This post is in Devanagari script. If there is difficulty in reading the text, there is need to install ‘Mangal’ font.)

    जाट - छत्तीस कौम का जमाई !

    आजकल General talk फोरम में एक थ्रैड चल रही है - what about intercaste marriage? मैं इस बात को वहां पर लिखना चाहता था पर बात ही कुछ ऐसी है कि इसको यहां Humor फोरम में ही लिखना ठीक है ।

    अब एक सच्चा किस्सा सुनो । हरयाणा बनने के तुरंत बाद बेरी हल्के से प्रताप दौलता (जो चीमनी गांव के थे) ने 2-3 बार चुनाव लड़ा और जीते - वह आयाराम-गयारामका जमाना था। प्रताप दौलता जी पेशे से वकील थे और बड़े ही मजाकिया स्वभाव के आदमी थे, लोग उनके सामने ही उनको प्रताप काणाकहते थे । एक बार चुनाव सभा खत्म होने के बाद एक बुजुर्ग-से पंडित जी ने मजाक में उनसे पूछ लिया "अरै प्रताप, ये जाट की जात (caste) भी कोई जात सै? - ये जाट तै किसै-बी जात की लुगाई नै ब्याह ल्यावैं सैं, नीची जात वाली नैं बी ले आवैं सैं" ।

    प्रताप दौलता बोल्या - "पंडित जी, उरे-नै आ - तू बात तै साची कहै सै, मळ (but) एक बात और सै - यो जाट छत्तीस जात का जमाई होवै सै !!!
    .
    Last edited by dndeswal; December 27th, 2006 at 06:10 PM.
    तमसो मा ज्योतिर्गमय

  2. #2
    Pratap Daulta was very much right deshwal bhai sahab,
    and thanks for the post[quote=dndeswal;126349](This post is in Devanagari script. If there is difficulty in reading the text, there is need to install ‘Mangal’ font.)

  3. #3

    Thumbs up

    sahi kaha deswal ji
    Jat 36 kom ka jamai hai
    sab te rishtedari jod leta hai
    :D :D :D
    मेरी जिन्दगी.....मेरा अन्दाज
    Work as a Labour.....Live as a King.
    कर भला हो भला.....अंत भले का भला
    To do better make changes where necessary and find other avenues.
    ALL POWER IS WITHIN YOU. YOU CAN DO ANYTHING AND EVERYTHING. BELIEVE IN THAT.
    अपने तो अपने होते हैं.....बाकी सब सपने होते हैं ।

  4. #4

    Good

    Nice joke I like IT
    Peace Out
    Nonu

  5. #5
    .
    बेरी हल्के के 'बांकरा' गांव में सिर्फ बाहमण बसते हैं । चुनाव के दौरान प्रताप दौलता वहां गया । उस गांव का सरपंच एक पांच फुट से भी कम कद का एक ठिगना-सा पंडित था, वो प्रताप से बोला –“इस गाम में तेरी वोट तै सैं-ऐं ना, फेर आया क्यूं”? प्रताप दौलता था पूरा हाजिर-जवाब, फट से जवाब दिया “पांच फुट तैं तळे की वोट मेरे काम की कोनी”

    ----------------

    प्रताप दौलता के गांव वाले उसको मजाक में कहने लगे - " अरै प्रताप, तू जिस गाम में जावै सै, तेरै धक्के लागैं सैं । प्रताप ने उलट कर जवाब दिया - "आंकल-झोट्यां कै तै धक्के ए लाग्या करैं !!
    .
    तमसो मा ज्योतिर्गमय

  6. #6
    lol.... sahi jawab diya..... aur sunao 2-4 kisse
    I have no signature , Where to put my thumb impression

  7. #7
    Quote Originally Posted by misguidedyouth View Post
    lol.... sahi jawab diya..... aur sunao 2-4 kisse
    लो, एक तो सुन लो ।

    प्रताप दौलता को लोग आंडी' MLA’ कहा करते थे । एक बार किसी चौधरी ने उनको चुनाव सभा में ही टोक दिया - "जी, बात न्यूं सै अक ये च*** तो आपकी वोट कत्ती ना दें" । प्रताप ने जवाब दिया - "कोए ना, बुलध नै खरीद ल्यो, चीचड़ तै गैल (साथ) आ-ज्यां सैं - चीचड़ां का कोए मोल-भाव हो सै ?" यह किस्सा पूरे इलाके में फैल गया ।

    उसके कुछ दिन बाद बेरी में चुनाव सभा हो रही थी जिसमें जगजीवन राम जी भी आये हुए थे । जब जगजीवन राम जी वापिस चले तो किसी ऊत नै प्रताप को टोक दिया साहब, यो चीचड़ आप की-ए गैल तै आया था । प्रताप ने जवाब दिया ना, यो चीचड़ कोनी था, कलीला था !!

    फिर उठी किल्कियाँ !!!

    Humor Forum के जमाइयो, इस धागे पर एकाध किल्की मार दोगे तो प्रताप दौलता के एक-दो किस्से और सुना दूंगा । नहीं तो रहने दो - कुछ समय बाद तो धागे पर अपने आप ही ताला लगना शुरू हो गया है ।
    .
    तमसो मा ज्योतिर्गमय

  8. #8
    Email Verification Pending
    Login to view details.
    Deswal Sir,
    Great LAGE RAHO DND BHAI
    it feels so good to see your threads always upto the mark and at the same time humrous too.
    Hats off to you sir

  9. #9
    Sir, ek do nahi, iss pai tai ghanii e killki maar dyangay,
    arr partap daultaa tai sachii mein e aandy MLA tha, jai wo issi baat kar diya karta tai.:D:D

    Quote Originally Posted by dndeswal View Post
    लो, एक तो सुन लो ।

    प्रताप दौलता को लोग ‘आंडी' MLA’ कहा करते थे । एक बार किसी चौधरी ने उनको चुनाव सभा में ही टोक दिया - "जी, बात न्यूं सै अक ये च*** तो आपकी वोट कत्ती ना दें" । प्रताप ने जवाब दिया - "कोए ना, बुलध नै खरीद ल्यो, चीचड़ तै गैल (साथ) आ-ज्यां सैं - चीचड़ां का कोए मोल-भाव हो सै ?" यह किस्सा पूरे इलाके में फैल गया ।

    उसके कुछ दिन बाद बेरी में चुनाव सभा हो रही थी जिसमें जगजीवन राम जी भी आये हुए थे । जब जगजीवन राम जी वापिस चले तो किसी ऊत नै प्रताप को टोक दिया –“साहब, यो चीचड़ आप की-ए गैल तै आया था” । प्रताप ने जवाब दिया –“ना, यो चीचड़ कोनी था, कलीला था” !!

    फिर उठी किल्कियाँ !!!

    Humor Forum के जमाइयो, इस धागे पर एकाध किल्की मार दोगे तो प्रताप दौलता के एक-दो किस्से और सुना दूंगा । नहीं तो रहने दो - कुछ समय बाद तो धागे पर अपने आप ही ताला लगना शुरू हो गया है ।
    .
    Privileged to be a Jat

  10. #10

    Thumbs up

    bahut sahi deswal ji !!!
    pratp daulata ka naam to suna tha,par ve itne haajir jawab the aaj jaan gaye.

  11. #11
    deswal saheb,

    isse-isse te chaahe saari raat aan deo, inte ke jee bharre sai...

    kum te kum nyu te bera paatte ak mhaare hariyaane mein bhi isse isse leader hoye sain..

    naah te aaj kaal ke leederaan ki jamaat tae muh padwaaye te naa bolti, isse isse haazir-jawab te door ki baat sai..

  12. #12
    deswal saheb,

    isse-isse te chaahe saari raat aan deo, inte ke jee bharre sai...

    kum te kum nyu te bera paatte ak mhaare hariyaane mein bhi isse isse leader hoye sain..

    naah te aaj kaal ke leederaan ki jamaat tae muh padwaaye te naa bolti, isse isse haazir-jawab te door ki baat sai..

    --Manu.

  13. #13

    Smile घी सा घल गया

    देशवाल जी ईसे किस्से तो रोका ना करो, बस आन दा करो
    "Life is what we make it, not what we take it."

  14. #14
    Quote Originally Posted by dndeswal View Post

    Humor Forum के जमाइयो, इस धागे पर एकाध किल्की मार दोगे तो प्रताप दौलता के एक-दो किस्से और सुना दूंगा । नहीं तो रहने दो - कुछ समय बाद तो धागे पर अपने आप ही ताला लगना शुरू हो गया है ।
    .
    deswal saab.... baladh kharido ho toh chichad toh gale aavenge :D

    aap sunao ge toh kilki aap aavengi .... kilki ka koy mol-bhav ho se
    Last edited by misguidedyouth; January 23rd, 2007 at 02:41 AM.
    I have no signature , Where to put my thumb impression

  15. #15

    ...

    Quote Originally Posted by misguidedyouth View Post
    deswal saab.... baladh kharido ho toh chichad toh gale aavenge :D

    aap sunao ge toh kilki aap aavengi .... kilki ka koy mol-bhav ho se
    ......................

  16. #16
    Quote Originally Posted by manuraj View Post
    deswal saheb,

    naah te aaj kaal ke leederaan ki jamaat tae muh padwaaye te naa bolti, isse isse haazir-jawab te door ki baat sai..

    --Manu.
    बिल्कुल ठीक बात है भाई - मैं ये सब सच्ची घटनायें लिख रहा हूँ - लो एक और पढ़ लो ।

    एक और चुनाव के समय एक बाहमण ने प्रताप से मजाक में पूछ लिया "साहब, ये जाट किस चिड़िया का नाम सै?" प्रताप बोल्या - "उरे नै आ मेरै धोरै" । जब वो पास आया तो प्रताप फिर बोला "तन्नै ईब ताहीं या बात ना बेरा"? फिर उसके मुंह पर एक जोर का थप्पड़ मार कर प्रताप ने बताया –“जाट वो होवै सै जो खामखा झगड़ा मोल ले ले” !!
    .
    तमसो मा ज्योतिर्गमय

Posting Permissions

  • You may not post new threads
  • You may not post replies
  • You may not post attachments
  • You may not edit your posts
  •