Page 1 of 2 1 2 LastLast
Results 1 to 20 of 26

Thread: Hasya khajana.....

  1. #1

    Hasya khajana.....

    गधा और इंसान..!
    विज्ञान की महिमा थी,
    tv रिपोर्टरों को
    जानवरों की भाषा,
    समझने की
    ट्रेनिंग दी गयी थी.
    और एक रिपोर्टर,
    एक गधे का,
    इंटरव्यू ले रही थी.
    रिपोर्टर:- गधेजी आप टी वी पर हैं
    मै आपसे कुछ सवाल करना चाहती हूँ,
    आप जवाब देंगे?
    गधेजी:- क्यूँ नहीं, क्यूँ नहीं,
    पूंछिये, पूंछिये
    रिपोर्टर:- गधेजी, आपको गधा कहकर लोग बुलाते हैं,
    आपको बुरा नहीं लगता.?
    गधेजी:- जी नहीं, जी नहीं
    हमें बुरा क्यूँ लगे ?,
    हम तो खुश हैं.
    इंसानों से तो हम बेहतर हैं
    आज का इंसान तो दुनिया के लिए कलंक है,
    आजकल इंसानों की हालत, शरारत, करतूत,
    ख्यालात और क्रूरता देखकर,
    हम सब को ऐसा ही लगता है,
    असल में हमें गधा होने का गर्व है.
    हम सब अच्छा काम ही करते हैं,
    सेवा में रहते हैं,
    आपस में नहीं झगड़ते,
    प्रेम और भाईचारे से रहते हैं,
    पर्यावरण नहीं बिगाड़ते,
    उदार अंतःकरण रखते हैं
    खुशी खुशी आपना जीवन जीते हैं,
    और भगवान से दुआ माँगते हैं
    की हमें गधा ही रहने दें
    इंसान न बनाएं.
    और आपके नेताओं जैसा भ्रष्ट तो कतई नहीं ....
    रिपोर्टर:- दर्शकों आपने सुना,
    ये हैं गधेजी के सुंदर अंदरूनी ख्यालात
    और कैसा किया है उनने
    इंसानों की दशा और करतूतों पर प्रहार.
    इसपर जरूर करिए विचार,
    क्या हो सकता है
    मानव की प्रवृत्ति में सुधार ?.
    रिपोर्टर:- गधेजी आपके इस साक्षात्कार के लिए
    बहुत बहुत धन्यवाद.
    अब एक आखरी प्रश्न
    जो आया है याद..
    (शरमाके) क्या शादीशुदा हैं आप ?.
    गधेजी:- देखिये आपकी ही भाषा में
    ये बताते है आज,
    हम इतने भी गधे नहीं हैं
    कि शादी करें इंसानों सी,
    जैसा आप लोगों का है रिवाज़.!.

  2. The Following 4 Users Say Thank You to SALURAM For This Useful Post:

    jaatdesi (November 16th, 2012), rajpaldular (September 21st, 2017), RavinderSura (November 18th, 2012), satyenderdeswal (November 21st, 2012)

  3. #2
    एक बार एक आदमी एक कुत्ते को लेकर टहल रहा था ।
    सामने से आ रहे एक शरारती लड़के ने पूछा :" इस गधे
    को लेकर कहाँ जा रहे हो ? "
    आदमी बोला :"अकल के अंधे ,यह गधा नहीं ,कुत्ता है"
    लड़का बोला : "मैं आपसे नहीं, कुत्ते से पूछ रहा हूँ"

  4. The Following 3 Users Say Thank You to SALURAM For This Useful Post:

    rajpaldular (September 21st, 2017), RavinderSura (November 18th, 2012), satyenderdeswal (November 21st, 2012)

  5. #3
    बड़े शहर की बड़ी बीमारी .!
    बडे शहर मुम्बई पुणे की,
    मानो हर इक बड़े शहर की
    कौन सी सबसे बड़ी बीमारी?
    बूझ सको गर तुम ये यारो,
    हमे बताओ जल्दी जल्दी.?
    ज़रा सोचो, मगर जल्दी जल्दी ..
    ना ये केन्सर, ना ये टीबी,
    ना ये हार्ट की, ना एड्स भी,
    ना मलेरिया , ना ये फ्लू भी,
    ना ये पसीना, ना ये सर्दी,
    ना ये प्रदूषण, ना ये गर्दी,
    ना ये गर्द भी
    हम जल्दी मे बूझ न पाते,
    ये सब बीमारी की जड़ सी,
    बडे बडे इन शहरों की तो,
    सबसे बड़ी बीमारी जल्दी
    जल्दी जल्दी, सबकुछ जल्दी.!
    सबलोगों को लगी ये जल्दी
    खाना जल्दी, पीना जल्दी,
    ट्रेन या बस पकड़ना जल्दी,
    ट्रैफिक मे भी जाना जल्दी,
    पहुँच के ऑफिस जल्दी मे ही,
    फिर थोडा है सोना जल्दी!
    जल्दी जल्दी काम है करना,
    जल्दी मे सब काम बिगाड़ना,
    बिगडे काम को सीधा करने,
    पूरे दिन का समय गंवाना.
    जल्दी ने सब काम बिगाडा,
    गया समय फिर हाथ न आया!
    यहाँ प्यार भी होता जल्दी ..
    यहाँ प्यार हो जाता जल्दी,
    फिर शादी की जल्दी जल्दी,
    शादी की रस्में भी जल्दी,
    हनीमून कर आए जल्दी,
    शादी हो गयी, समझ न पायें,
    अब डिवोर्स की बातें जल्दी.
    इक दूजे को समझने भी तो,
    टाइम है लगता, नहीं समझते,
    जल्दी मे नहीं मन की शांती,
    इसीलिये सब झगडे होते..!
    यहाँ, खरीदार को जल्दी.
    खरीदार को है ही जल्दी,
    दुकांदार को भी है जल्दी,
    पेक करा कर जल्दी मे ही,
    घर ले आये पार्सल जल्दी
    और, पेक खोलकर देखा तो क्या,
    खरीदनी थी इनको गंजी,
    पेक मे कैसे आ गयी चोली?
    अब फिर से दूकान है जाना,
    जल्द बदल ये सबकुछ लाना.!
    इन सब से ही होता टेन्शन
    ख़ुद पर रहता नहीं अटेन्शन
    तन और मन मे इन्डैजेशन
    बीमारी को इन्विटेशन
    नहीं समझ कुछ आता मेरे,
    सब को इतनी क्यूँ है जल्दी,
    अगर इन्हे है समय बचाना,
    बचे समय मे भी क्यूँ जल्दी,
    जल्दी का यह चक्कर कैसा,
    क्या है मरने की भी जल्दी .?
    जल्दी मे जल्दी के सिवा,
    कैसे कुछ और भी सोच सकें,
    मानव जीवन वरदान जो ये,
    कब इस पर हम कुछ गौर करें.!
    कहतें है सब, भगवान के घर,
    कुछ देर भले, अंधेर नहीं,
    पर बड़े बड़े इन् शहरों में,
    अंधेर नगर इन् शहरों में,
    जल्दी के सिवा, कुछ और नहीं.!
    जल्दी के सिवा, कुछ और नहीं.!

  6. The Following 5 Users Say Thank You to SALURAM For This Useful Post:

    neel6318 (September 22nd, 2017), rajpaldular (September 21st, 2017), RavinderSura (November 18th, 2012), satyenderdeswal (November 21st, 2012), ssgoyat (November 16th, 2012)

  7. #4
    जब पुरुष कॉलेजों में पढ़ते हैं , आशिकाना मिजाज़ रखते हैं .
    लड़कियों की नज़र में जंचने को , शातिराना मिजाज़ रखते
    हैं .
    जाल में फंस गई अगर कोई , ख़ुब घुमाते हैं उसको बाइक
    पे ;
    तान कॉलर बघारते शेखी , मालिक़ाना मिजाज़ रखते हैं .
    लाख गड़ते हों सबकी नज़रों में , फ़र्क इनपे कोई
    नहीं पड़ता .
    शर्म हो जिसमें , आँख मूंदे ख़ुद , बेहयाना मिजाज़ रखते हैं .
    ताड़ कर और भी रईस बड़ा , फ़ुर्र हो जाये अगर माशूका ;
    ज़ख्म के साथ याद जी करके , शायराना मिजाज़ रखते हैं .
    हाल बेहाल देखकर इनका , घर बसाते जब इनका घर वाले ;
    कुछ दिनों तक ये अपनी पत्नी पे , हुक्मराना मिजाज़ रखते
    हैं .
    वक़्त के साथ झटक कर घूँघट , रंग असल जब वो दिखाने
    लगती .
    देखकर रौद्र रूप पत्नी का , कायराना मिजाज़ रखते हैं .
    इनके खुद के , पड़ोस के लड़के , जब
    इन्हीं हरकतों को दोहराते ;
    ख़ुब पिलाते हैं नसीहत उनको , फलसफाना मिजाज़ रखते
    हैं .
    जय भारत

  8. The Following 6 Users Say Thank You to SALURAM For This Useful Post:

    jaatdesi (November 16th, 2012), neel6318 (September 22nd, 2017), rajpaldular (September 21st, 2017), RavinderSura (November 18th, 2012), satyenderdeswal (November 21st, 2012), sivach (November 21st, 2012)

  9. #5
    क्या आप को पता है
    दुनिया का सबसे
    पहला जहाज़
    कहाँ उड़ा था??
    .
    .
    .
    .
    जवाब इस
    छोटे से ब्रेक
    के बाद...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    सर्फ़ एक्सेल ... दाग अच्छे हैं..
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    रूपा फ्रंटलाइन .. रहो सबसे आगे..
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    असली मसाले सच सच... एम् डी एच..एम् डी एच..
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    क्या आप के टूथपेस्ट में
    नमक है??
    कोलगेट एक्टिव साल्ट टूथपेस्ट...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    हम में है हीरोओओओओओओओओओओ
    हीरो मोटरसायकल....
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    एल आई सी...
    ज़िन्दगी के साथ भी
    ज़िन्दगी के बाद भी..
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    हाय हेंडसम
    हाय हेंडसम
    हाय हेंडसम
    फेयर एंड हेंडसम
    फेयरनेस क्रीम...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    ..
    वेलकम बेक तो माय शो...
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    दुनिया का सबसे पहला
    जहाज़
    हवा में उड़ा था!!!!!!

  10. The Following 3 Users Say Thank You to SALURAM For This Useful Post:

    neel6318 (September 22nd, 2017), rajpaldular (September 21st, 2017), satyenderdeswal (November 21st, 2012)

  11. #6
    एक ब शूरा ने की गुड्गामे की एक बड्डी कंपनी में नौकरी लाग
    गी |
    शूरा ने पहले इ दिन फ़ोन घुमाया और बोला - तावला सा एक
    कप चा ले के आजा |
    दूसरी कान्हा ते आवाज आइ - बेवकूफ तने गलत नम्बर
    घुमा दिया तने बेर सा मैं कुन सू?
    शूरा बोल्या अक - ना |
    दूसरी कान्हा ते आवाज आइ - मैं इस कम्पनी का बास बोलूं
    सूं |
    शूरा बोल्या - तने बेर स मैं कोण बोलूं सूँ ?
    दूसरी कान्हा ते आवाज आइ - ना |
    शूरा ने फोन पटक के मारा आर बोला - आज ते बच ग्या

  12. The Following 5 Users Say Thank You to SALURAM For This Useful Post:

    neel6318 (September 22nd, 2017), rajpaldular (September 21st, 2017), RavinderSura (November 25th, 2012), rekhasmriti (November 25th, 2012), rsdalal (November 25th, 2012)

  13. #7
    सालू राम 10 वी म फ़ैल हो गया तो घर वाला न इसका ब्याह कर दिया .सुहाग रात आली रात सालू अपनी बहू न बोल्या हा बेबे तू भी 10 वी मै फ़ैल हो गयी थी |
    "कर्म हैं जिसका भगवान, कौम वतन पर हैं जो कुर्बान |
    पगड़ी का जो रखे मान सच्चे जाट की यह पहचान ||


    कुछ हमारे संग चले आये गे .कुछ देख के रंग ढंग चले आये गे .बाकी बचे होके तंग चले आये गे !

  14. The Following 4 Users Say Thank You to RavinderSura For This Useful Post:

    neel6318 (September 22nd, 2017), rekhasmriti (November 25th, 2012), SandeepSirohi (November 26th, 2012), vikasJAT (November 27th, 2012)

  15. #8
    एक बार सालू घर खाना खावे था .यो अपनी घर वाली न बोल्या यो कोई खाना बना रखा है जम्मा गोब्बर जिसा टेस्ट है ..इसकी घरवाली बोल्यी हे राम इस आदमी न भी बेरा न के के खा के देखा रखा है |
    "कर्म हैं जिसका भगवान, कौम वतन पर हैं जो कुर्बान |
    पगड़ी का जो रखे मान सच्चे जाट की यह पहचान ||


    कुछ हमारे संग चले आये गे .कुछ देख के रंग ढंग चले आये गे .बाकी बचे होके तंग चले आये गे !

  16. The Following 5 Users Say Thank You to RavinderSura For This Useful Post:

    neel6318 (September 22nd, 2017), rekhasmriti (November 25th, 2012), SandeepSirohi (November 26th, 2012), vikasJAT (November 27th, 2012), vineshrana (November 25th, 2012)

  17. #9
    यारों! शादी मत करना, ये है मेरी अर्ज़ी
    फिर भी हो जाए तो ऊपर वाले की मर्ज़ी।
    लैला ने मजनूँ से शादी नहीं रचाई थी
    शीरी भी फरहाद की दुल्हन कब बन पाई थी
    सोहनी को महिवाल अगर मिल जाता, तो क्या होता
    कुछ न होता बस परिवार नियोजन वाला रोता
    होते बच्चे, सिल-सिल कच्छे, बन जाता वो दर्ज़ी।
    सक्सेना जी घर में झाड़ू रोज़ लगाते हैं
    वर्मा जी भी सुबह-सुबह बच्चे नहलाते हैं
    गुप्ता जी हर शाम ढले मुर्गासन करते हैं
    कर्नल हों या जनरल सब पत्नी से डरते हैं
    पत्नी के आगे न चलती, मंत्री की मनमर्ज़ी।
    बड़े-बड़े अफ़सर पत्नी के पाँव दबाते हैं
    गूंगे भी बेडरूम में ईलू-ईलू गाते हैं
    बहरे भी सुनते हैं जब पत्नी गुर्राती है
    अंधे को दिखता है जब बेलन दिखलाती है
    पत्नी कह दे तो लंगड़ा भी, दौड़े इधर-उधर जी।
    पत्नी के आगे पी.एम., सी.एम. बन जाता है
    पत्नी के आगे सी एम, डी.एम. बन जाता है
    पत्नी के आगे डी. एम. चपरासी होता है
    पत्नी पीड़ित पहलवान बच्चों सा रोता है
    पत्नी जब चाहे फुड़वा दे, पुलिसमैन का सर जी।
    पति होकर भी लालू जी, राबड़ी से नीचे हैं
    पति होकर भी कौशल जी, सुषमा के पीछे है
    मायावती कुँवारी होकर ही, सी.एम. बन पाई
    क्वारी ममता, जयललिता के जलवे देखो भाई
    क्वारे अटल बिहारी में, बाकी खूब एनर्जी।

    पत्नी अपनी पर आए तो, सब कर सकती है
    कवि की सब कविताएं, चूल्हे में धर सकती है
    पत्नी चाहे तो पति का, जीना दूभर हो जाए
    तोड़ दे करवाचौथ तो पति, अगले दिन ही मर जाए
    पत्नी चाहे तो खुदवा दे, घर के बीच क़बर जी।

    शादी वो लड्डू है जिसको, खाकर जी मिचलाए
    जो न खाए उसको, रातों को, निंदिया न आए
    शादी होते ही दोपाया, चोपाया होता है
    ढेंचू-ढेंचू करके बोझ, गृहस्थी का ढोता है
    सब्ज़ी मंडी में कहता है, कैसे दिए मटर जी।

  18. The Following 2 Users Say Thank You to SALURAM For This Useful Post:

    neel6318 (September 22nd, 2017), vikasJAT (November 27th, 2012)

  19. #10
    वो तेरा बोफोर्स घोटाला,
    वो 2Gका स्कैम,
    वो खुलेआम लूट
    वो जीरो लॉस का ज्ञान
    नही भूलूँगा
    मैं जब तक है जान
    जब तक है जान।
    वो भगत सिंह को आतंकी बताना,
    वो हिंदू विरोधी रवैया तेरा,
    वो आरएसएस को आतंकवादी संगठन का देना नाम।
    नही भूलूँगा मैं
    जब तक है जान
    जब तक है जान।
    वो दिग्गी का भौकंना,
    वो १९८४ का नरसंहार
    फिर बेशर्मी से कहा तूने
    हो रहा भारत निर्माण।
    नही भूलूंगा मैं
    जब तक है जान
    जब तक है।
    अंत में-
    हिंदू समंझ चुका है सोनिया तेरी कुटिल चाल
    मोदी जी करेंगे तेरा ऐसा बुरा हाल
    कि नही भूलेगी तू
    जब तक है जान
    जब तक है जान ।।
    साभार- Amit sehwag

  20. The Following User Says Thank You to SALURAM For This Useful Post:

    RavinderSura (November 30th, 2012)

  21. #11
    बिहार की राजधानी पटना /
    उसमे घटी एक घटना //
    एक मरियल सी बुढिया ,
    लगाये होठो पर लिपस्टिक
    गालो पर खड़िया /
    अपने पति देव के साथ ,
    लिए हाथो में हाथ
    बैरे को बुलवाया
    खाना मंगवाया /
    पहले बुड्ढे ने खाया ,
    बुढिया देखती रही .
    प्यार से पंखा झलती रही
    फिर बुढिया ने खाया
    बुड्ढा देखता रहा
    प्यार से हाथ मलता रहा
    बैरे ने देखा
    अरे! ओ लैला मजनूं
    अगर इतना ही प्यार है
    तो क्यों नही खाते साथ-साथ
    बुड्ढा बोला बेटा बैरे /
    तेरा इरादा तो नेक है
    पर क्या करे हम दोनों के पास
    दाँतों का सेट एक है .........................

  22. The Following 3 Users Say Thank You to SALURAM For This Useful Post:

    neel6318 (September 22nd, 2017), RavinderSura (November 30th, 2012), SandeepSirohi (November 30th, 2012)

  23. #12
    बॉयफ्रेंड - संगीत में इतनी ताकत होती है की पानी तक भी गरम हो जाता है !
    गर्लफ्रेंड - जब तुम्हारा गाना सुनकर मेरा खून खोल सकता है तो पानी क्या चीज़ है !
    जय भारत

  24. The Following User Says Thank You to SALURAM For This Useful Post:

    rajpaldular (September 21st, 2017)

  25. #13
    अर्ज किया है -
    ये औरते बड़ी चालाक होती है !
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    ये औरते बड़ी चालाक होती है !
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .
    .

    अपनी प्रोफाइल पिक्चर में अकेली
    और पति की प्रोफाइल पिक्चर के साथ में होती है
    जय भारत

  26. The Following 2 Users Say Thank You to SALURAM For This Useful Post:

    neel6318 (September 22nd, 2017), rajpaldular (September 21st, 2017)

  27. #14
    Quote Originally Posted by SALURAM View Post
    गधा और इंसान…..!
    विज्ञान की महिमा थी,
    tv रिपोर्टरों को
    जानवरों की भाषा,

    ये बताते है आज,
    हम इतने भी “गधे” नहीं हैं
    कि शादी करें इंसानों सी,
    जैसा आप लोगों का है रिवाज़….!.
    ye kya baat, bacche to sabse khoobsurat hote hain, insaanon ke bacche bhi bhunde nazar aate hain dada-dadi ko

  28. #15
    Quote Originally Posted by SALURAM View Post
    एक बार एक आदमी एक कुत्ते को लेकर टहल रहा था ।
    सामने से आ रहे एक शरारती लड़के ने पूछा :" इस गधे
    को लेकर कहाँ जा रहे हो ? "
    आदमी बोला :"अकल के अंधे ,यह गधा नहीं ,कुत्ता है"
    लड़का बोला : "मैं आपसे नहीं, कुत्ते से पूछ रहा हूँ"
    Aadmi: ladka bhool gaya hai GST yani "Gadha Bhi Kabhi Sher Tha"

  29. #16
    Quote Originally Posted by SALURAM View Post
    नही भूलूंगा मैं
    जब तक है जान
    जब तक है।
    अंत में-
    हिंदू समंझ चुका है सोनिया तेरी कुटिल चाल
    मोदी जी करेंगे तेरा ऐसा बुरा हाल
    कि नही भूलेगी तू
    जब तक है जान
    जब तक है जान ।।
    साभार- Amit sehwag
    lekin khud kyun bhool gaye apna naam

  30. #17
    Quote Originally Posted by neel6318 View Post
    lekin khud kyun bhool gaye apna naam
    kyunki aap jaise log bhi to aayenge na yaad dilane...
    जय भारत

  31. #18
    Quote Originally Posted by SALURAM View Post
    kyunki aap jaise log bhi to aayenge na yaad dilane...
    galat baat.......Modi ji aur Soniya ji ko bhidwate ho ......Congress Soniya ji ne thaami to Menaka bahu BJP ki thi .....pariwar to Nehru ka hi hai

  32. The Following User Says Thank You to neel6318 For This Useful Post:

    SALURAM (September 22nd, 2017)

  33. #19
    Quote Originally Posted by neel6318 View Post
    galat baat.......Modi ji aur Soniya ji ko bhidwate ho ......Congress Soniya ji ne thaami to Menaka bahu BJP ki thi .....pariwar to Nehru ka hi hai
    nehru ji ka pariwar tha.... main aajtak gandhi ji ka pariwar hain samajhtha tha.....
    जय भारत

  34. #20
    yahi duwidha hoti hai child adoption mein ..... "pandit ki beti baniyon mein"

    nehru ji ka pariwar tha.... main aajtak gandhi ji ka pariwar hain samajhtha tha.....
    Last edited by neel6318; September 23rd, 2017 at 10:58 AM.

  35. The Following User Says Thank You to neel6318 For This Useful Post:

    SALURAM (September 23rd, 2017)

Posting Permissions

  • You may not post new threads
  • You may not post replies
  • You may not post attachments
  • You may not edit your posts
  •