Baba chaudhary Harikrishan Deshwal

From Jatland Wiki
Jump to: navigation, search

बाबा हरिकृष्ण

जीवन परिचय

बाबा हरिकिशन जन्म एंचेरा ग्राम जिला भरतपुर में नम्बरदार छोटेलाल देशवाल के घर हुआ। हरिकिशन जी को मास्टर किशन सिंह के नाम से जाना जाता है अपने समय में वो देशवारी के प्रधान रहे थे 8 अगस्त 2014 को उनकी असमय मृत्यु एक दुर्घटनावश हो गयी।

परिवार परिचय

हरि किशन का विवाह ग्राम भूतोली में सिनसिनवार गोत्रीय लीला देवी के साथ हुआ

  • इनके 3 पुत्र
  • 1.पोहप सिंह जिनका विवाह अजान ग्राम की खुटेला गोत्रीय ब्रह्मदेवी के साथ हुआ है।
  • 2.वीरेंद्र पाल सिंह जिनका विवाह मांझी ग्राम की हरितवाल गोत्रीय निर्मला देवी के साथ हुआ है।
  • 3.धर्मवीर जिनका विवाह माढोनी ग्राम की सोगरवाल गोत्रीय स्वर्गीय गीता देवी के साथ हुआ।
  • 3 ही पुत्री
  • 1.मूर्तिदेवी (जयदई) जिनका विवाह उत्तरप्रदेश के बिछपुरी ग्राम में स्वर्गीय ओमप्रकाश सिंह पचहेरा के साथ हुआ।
  • 2.ओमवती देवी जिनका विवाह अलवर जिले में हनीपुर ग्राम के श्यामसिंह सेमारे के साथ हुआ है।
  • 3.सुनीता देवी जिनका विवाह अलवर जिले के गंडूरा ग्राम के मंगतूसिंह का कासन वार के साथ हुआ।