Bandpura

From Jatland Wiki
Jump to: navigation, search

Bandpura (बंडपुरा) is village in in Mathura district in Uttar Pradesh.

History

वंशावली वाले कुंतल जाटो को तोमरों से अलग हुआ मानते हैं । इसलिए तोमर और कुंतल एक ही गोत्र है । उनमे आपस में विवाह वर्जित है । इतिहासकारों ने तोमरो को चन्द्रवंशी पांडु पुत्र अर्जुन के वंशज माना है । तोमर जाटो को आज भी कुंतल (कुंती पुत्र), पार्थ (पृथा पुत्र), कोंतये, पांडव भी कहते है, जो तोमर जाटो के पांडुवंशी होने पर मोहर लगाते । कुन्तलो के मथुरा में बसने का इतिहास हमें बताता है की अनंगपाल-3rd (अर्कपाल) का दिल्ली से राज्य खत्म हो गया तो अनंगपाल तोमर के सगे परिवार के लोगो ने पृथला कुंती (पृथा) के नाम पर गाँव पलवल में बसाया जो आज भी है । राजा अनंगपाल के सगे परिवार के लोग फिर मथुरा क्षेत्र में चले गए । कुछ परिवार के लोगो ने कुंतल पट्टी बसाकर, सौख क्षेत्र की खुटेल (कुंतल) पट्टी में महाराजा अनंगपाल की बड़ी मूर्ति स्थापित करवाई जो आज भी देखी जा सकती है । मथुरा में तोमरो के वंशजो को कुंतल (कुंतीपुत्र) कहते है ।

Jat Gotra

Notable persons

History

See Also

External links

References


Back to Jat Villages