Jaitaran

From Jatland Wiki
Jump to navigation Jump to search
Location of Jaitaran in Pali District
Location of Jaitaran in Pali District

Jaitaran (जैतारण) is a tahsil town in Pali district in Rajasthan.

Jat Gotras

History

बुरडक गोत्र के बडवा (भाट) श्री भवानीसिंह राव (फोन-09785459386) की बही के अभिलेखों में जैतारण का सम्बन्ध बुरड़क गोत्र के इतिहास से है. अजमेर के चौहान वंश में राजा रतनसेण के बिरमराव पुत्र हुए. बिरमराव ने अजमेर से ददरेवा आकर राज किया. संवत 1078 (1021 AD) में किला बनाया. इनके अधीन 384 गाँव थे. बिरमराव की शादी वीरभाण की बेटी जसमादेवी गढ़वाल के साथ हुई. इनसे तीन पुत्र उत्पन्न हुए:

  • 1. सांवत सिंह - सांवत सिंह के पुत्र मेल सिंह, उनके पुत्र राजा घंघ, उनके पुत्र इंदरचंद तथा उनके पुत्र हरकरण हुए. इनके पुत्र हर्ष तथा पुत्री जीण उत्पन्न हुयी. जीणमाता कुल देवी संवत 990 (933 AD) में प्रकट हुयी.
  • 2. सबल सिंह - सबलसिंह के बेटे आलणसिंह और बालणसिंह हुए. सबलसिंह ने जैतारण का किला संवत 938 (881 AD) में आसोज बदी 10 को फ़तेह किया. इनके अधीन 240 गाँव थे.
  • 3. अचल सिंह -

सबलसिंह के बेटे आलणसिंह के पुत्र राव बुरडकदेव, बाग़देव, तथा बिरमदेव पैदा हुए.

आलणसिंह ने संवत 979 (922 AD) में मथुरा में मंदिर बनाया तथा सोने का छत्र चढ़ाया.

ददरेवा के राव बुरडकदेव के तीन बेटे समुद्रपाल, दरपाल तथा विजयपाल हुए.

राव बुरडकदेव (b. - d.1000 AD) महमूद ग़ज़नवी के आक्रमणों के विरुद्ध राजा जयपाल की मदद के लिए लाहोर गए. वहां लड़ाई में संवत 1057 (1000 AD) को वे जुझार हुए. इनकी पत्नी तेजल शेकवाल ददरेवा में तालाब के पाल पर संवत 1058 (1001 AD) में सती हुई. राव बुरडकदेव से बुरडक गोत्र निकला.

राव बुरडकदेव के बड़े पुत्र समुद्रपाल के 2 पुत्र नरपाल एवं कुसुमपाल हुए. समुद्रपाल राजा जयपाल के पुत्र आनंदपाल की मदद के लिए 'वैहिंद' (पेशावर के निकट) गए और वहां पर जुझार हुए. संवत 1067 (1010 AD) में इनकी पत्नी पुन्यानी साम्भर में सती हुई.

Villages in Jaitaran tahsil

Agewa, Akodiya, Amarpura, Anandpur Kalu With Chak, Asarlai, Bahja Kuri, Baktawarpura Manpura, Balara, Baloonda, Balupura, Bankas, Bassi, Bassi@Chainpura, Beekarlai, Ber Kalan, Bhakarwas, Bhakhar Washi, Bheevgarh, Bhil Deva, Bhoombaliya, Birampuri, Birol, Bogasani, Chawandiya, Dagla, Dayalpura, Deoriya, Deoriya Raiputan, Dhaneriya, Digarna, Doongar Nagar, Falka, Garniya, Ghorawar, Gurha Hemadai, Gyas, Hunawas Kalan, Hunawas Khurd, Jaitaran (M), Jajanwas, Janasani, Jhujanda, Jodhawas, Kanawas, Kane Charanawatan, Kanwaliya Kalan, Kanwaliya Khurd, Karoliya, Katmor, Kekindara, Kharadi, Kharchiya, Khati Khera, Kheendawas, Khera Deogarh, Khera Maharajpura, Khera Nainpura, Khera Ramgarh, Khinawari, Kishan Nagar, Kotariya, Kurki, Lakhasani, Lambiya, Lasni, Leelriya, Likhmaniya, Litariya, Lototi, Lumbarawas, Malpuriya, Mohangarh, Mohrai, Mundawa, Nimaj, Nimbera Khurd, Nimbol, Odawas, Paliyawas, Patus, Patwa, Peepaliya Khurd, Peepara, Phoolmal, Pratappura, Prithvi Pura, Rabariyas, Rajadand, Ramawas Kalan, Ramawas Khurd, Rampura, Raniwal, Ras, Roop Nagar, Samokhi, Sangawas, Sewariya, Sinla, Talkiya, Teebri, Thakarwas, Tigara, Toonkara, Vijay Garh,

Notable persons

Dilip Chaudhary (Bana) - From Jaitaran of Pali district was elected MLA in 2008 as Independent candidate and was been appointed Parliamentary Secretary. He was President of District Congress Committee, Pali. Mob:92145-93501 02939-222310, 01462-222684

External Links

References



Back to Rajasthan