Akashaganga River

From Jatland Wiki
Jump to navigation Jump to search
Author:Laxman Burdak, IFS (R)

Akashaganga (आकाशगंगा नदी) is a River mentioned in Mahabharata.

Variants

Origin

History

आकाशगंगा

विजयेन्द्र कुमार माथुर[1] ने लेख किया है ...आकाशगंगा नदी (AS, p.59) का बदरिकाश्रम के निकट उल्लेख है-- 'आकाशगंगा प्रयता: पांडवास्तेऽभ्यवादयन्' महाभारत, वनपर्व 142,11 जिससे यह गंगा नदी की अलकनंदा नाम की शाखा जान पड़ती है। पौराणिक किंवदंती में गंगा को आकाश मार्ग से जाने वाली नदी माना जाता था। (दे. त्रिपथगा) बदरिकाश्रम के निकट, महाभारत में, जिस वैहायसह्रद का उल्लेख है वह आकाशगंगा या अलकंनदा का ही स्रोत जान पड़ता है--'यत्र साबदरी रम्या ह्रदोवैहायसस्तथा' शांतिपर्व, 127, 3

External links

References


Back to Rivers/ Rivers in Mahabharata