Manik Singh

From Jatland Wiki
Jump to: navigation, search

मानिकसिंह फरीदकोट के राजा वराड़ वंशी जाट सिख थे। जाट इतिहास:ठाकुर देशराज से इनका इतिहास नीचे दिया जा रहा है।

अजीतसिंह के चार लड़के थे -

(1) मानकसिंह जो बलीअहद बने,

जाट इतिहास:ठाकुर देशराज, पृष्ठान्त-440


(2) दूधा, (3) कूंलों, (4) हिन्दू।

मानिकसिंह के समय में इनकी रियासत घाघर नदी से सतलज के बीच के इलाकों पर अवस्थित थी, लेकिन उसका पूरा इन्तजाम नहीं हो सका। इनके सात लड़के थे -

(1) टेंडासिंह युवराज,
(2) फूखर - इनकी औलाद वाले खूखर कहलाते हैं,
(3) खंखी - इसकी औलाद कसवा बरनाला इलाका पटियाला में है,
(4) पक्खू - इसकी औलाद मौजा पक्खू इलाका भटिण्डा में है,
(5) सल्लू - इसकी औलाद का कुछ पता नहीं है,
(6) बाहिना - इसकी औलाद पूरब में गंगा किनारे आबाद था,
(7) कन्हैया - इसकी औलाद इलाका माझ में रहती है।

मानिकसिंह के स्वर्गवास होने के बाद टेंडासिंह गद्दीनसीन हुआ।

References


Back to The Rulers