Macedonia

From Jatland Wiki
(Redirected from Macedonian)
Jump to navigation Jump to search
Map of Macedonia.jpg

Macedonia (Македонија, tr. Makedonija, मकदूनिया), officially the Republic of Macedonia is a country in the Balkan peninsula in South-east Europe. It is one of the successor states of the former Yugoslavia, from which it declared independence in 1991. It became a member of the United Nations in 1993, but, as a result of an ongoing dispute with Greece over the use of the name Macedonia, was admitted under the provisional description, the former Yugoslav Republic of Macedonia.

Location

History

Mount Korab, the highest mountain in Macedonia

The Republic of Macedonia roughly corresponds to the ancient kingdom of Paeonia which was located immediately north of the ancient kingdom of Macedonia. Paeonia was inhabited by the Paeonians, a Thracian people, whilst the northwest was inhabited by the Dardani and the southwest by tribes known historically as the Enchelae, Pelagones and Lyncestae; the latter two are generally regarded as Molossian tribes of the northwestern Greek group, whilst the former two are considered Illyrian.

Slavic peoples settled in the Balkan region including Macedonia by the late 6th century AD. During the 580s, Byzantine literature attests to the Slavs raiding Byzantine territories in the region of Macedonia, later aided by Bulgars. Historical records document that in c. 680 a group of Bulgars, Slavs and Byzantines led by a Bulgar called Kuber settled in the region of the Keramisian plain, centred on the city of Bitola. Persian's reign apparently coincides with the extension of Bulgarian control over the Slavic tribes in and around Macedonia. The Slavic people that settled in the region of Macedonia, converted to Christianity around the 9th century during the reign of Tsar Boris I of Bulgaria.

Socialist Yugoslavia period - In 1944, the Anti-Fascist Assembly for the National Liberation of Macedonia (ASNOM) proclaimed the People's Republic of Macedonia as part of the People's Federal Republic of Yugoslavia. ASNOM remained an acting government until the end of the war. The Macedonian alphabet was codified by linguists of ASNOM, who based their alphabet on the phonetic alphabet of Vuk Stefanović Karadžić and the principles of Krste Petkov Misirkov.

Jat History

मकदूनिया (Macedonia) देश के शासकों से जाटों का युद्ध

दलीप सिंह अहलावत[1] ने लिखा है.... 5वीं शताब्दी ईस्वी पूर्व में जाटों ने मकदूनिया के राजा परडीकास द्वितीय पर आक्रमण


1. अनटिक्विटी ऑफ जाट रेस, पृ० 15-18, लेखक उजागरसिंह माहिल।
2. अनटिक्विटी ऑफ जाट रेस, पृ० 18-19, लेखक उजागरसिंह माहिल।


जाट वीरों का इतिहास: दलीप सिंह अहलावत, पृष्ठान्त-357


करनेवाले आडराईसो के राजा सीतलक्स की सहायता के लिए एक घुड़सवार सैनिक दस्ता भेजा था। इन दोनों देशों में संघर्ष तब तक जारी रहा जब तक कि मकदूनिया के राजा फिलिप द्वितीय ने 342 ई० पू० में आडराईसो को विजय करके उनसे कर लेना आरम्भ किया। अब जाटों ने फिलिप से मेल कर लिया। जाटों के राजा गोथलस ने फिलिप को सिपाही भेजने आरम्भ कर दिए और अपनी पुत्री का विवाह फिलिप से कर दिया। थ्रेस (बुलगारिया) की सीमा के साथ दक्षिण में मकदूनिया है जो कि यूनान का उत्तरी भाग है। गोथलस, ईपीरस (यूनान का पश्चिमी भाग) का जाट राजा था। फिलिप की सेना में भी बहुत जाट सैनिक थे और उनके पुत्र सिकन्दर की विशाल सेना में इन जाटों की बड़ी संख्या थी। यूनानी विद्वान् फर्ग्यूसन का कहना है कि “मकदूनिया वाले यूनानियों तथा थ्रेस के जाटों की सन्तान हैं। सिकन्दर महान् ने भी स्वीकार किया था कि मेरी रगों में जाट खून बह रहा है। वह कहता था कि सिकन्दर महान् की माता ओलाइम्पीअस (Olympias) ईपीरस (Epirus) देश के जाट राजा की पुत्री थी जो कि वहां की जाट रानियों की औलाद थी। ओलाइम्पीअस का स्वभाव एवं आदतें बिल्कुल थ्रेश की जाट स्त्रियों जैसी थीं।”

मकदूनिया के साथ जाटों के युद्धों का काफी वर्णन मिलता है।

326 ई० पू० में जोपाईरिअन ने जाटों के देश पर आक्रमण किया जिसमें उसको करारी हार मिली। 292 ई० पू० में लाईसिमेशस ने जाटों पर आक्रमण किया और बस्सारबिया के युद्ध के मैदान तक बढ़ आया। जाटों ने उसके वापिस लौटने के रास्ते को घेर लिया। उसने लाचार होकर हथियार डालने पड़े। जाट सेना ने उस राजा को फांसी देने की मांग की किन्तु जाट राजा ड्रोमीचेइटस ने उसे बिना कोई चोट के उदारता से छोड़ दिया। एक बार फिलिप ने डैन्यूब नदी के सीथियन जाटों पर आक्रमण करके उनके काफी घोड़े तथा अन्य पशु छीन लिए। फिलिप के लौटते समय जाटों ने उस पर जवाबी हमला कर दिया और उससे लूटा हुआ माल छुड़वा लिया। फिलिप को गहरी चोट लगी और बड़ी मुश्किल से अपनी सेना को हेइमस दर्रे से अपने देश में वापिस ले गया1

References