Shankar Lal Bhunhal

From Jatland Wiki
Jump to: navigation, search
Shaitana Ram Bhunwal and his family

Shankar Lal Bhunwal is a social worker and donor from Dungargarh, Bikaner, Rajasthan. He is from Bhanuda village in Ratangarh tahsil of Churu district in Rajasthan born in the family of Shaitana Ram Bhunwal.

सम्मान

जाट कीर्ति संस्थान चुरू द्वारा 31.8.2017 को ग्रामीण किसान छात्रावास रतनगढ में प्रदान किया सम्मान

सामाजिक सरोकारों में भुंवाल परिवार सदैव सहयोग प्रदान करता रहा है। 31 अगस्त 2017 को ग्रामीण किसान छात्रावास, रतनगढ़ में आयोजित स्मरण-समारोह ' समाज-जागृति के सौ साल' का प्रोयोजक भी यह भुंवाल परिवार ही था। समाज के हित औऱ उत्थान की दिशा में किए जाने वाले प्रयासों में भुंवाल परिवार हर संभव आर्थिक मदद करता है।

श्री श्री शंकरलाल भुवाल निवासी डूंगरगढ़ को समाज-जागृति के सौ साल के उपलक्ष्य में आयोजित स्मरण-समारोह प्रयोजित करने के लिए समाज-भामाशाह का सेठ छाजूराम सम्मान जाट कीर्ति संस्थान चुरू द्वारा 31.8.2017 को ग्रामीण किसान छात्रावास रतनगढ में प्रदान किया गया.

जीवन परिचय

  • जन्म-स्थल: गांव भानुदा (तहसील रतनगढ़, जिला चूरू)
  • पिताजी का नाम: चौधरी शैताना राम भुंवाल
  • दादी जी का नाम: श्रीमती तीजा देवी
  • दादाजी का नाम: चौधरी चेतनराम
  • माता का नाम: श्रीमती रामी देवी
  • श्री शंकरलाल भुवाल के भाई हैं: 1. श्री शंकरलाल (स्वयं), 2. श्री ओमप्रकाश, 3.श्री रुघाराम, 4. श्री सुखदेव प्रसाद, 5. श्री रामकुमार, 6. श्री विजयपाल,

चौधरी शैताना राम भुंवाल वर्तमान में अपने पुत्रों, पुत्र-वधुओं, पोते-पोतियों सहित कुल मिलाकर 31 सदस्यों के भरे-पूरे परिवार के मुखिया हैं। परिवार द्वारा शिक्षा को महत्व दिए जाने का ही सुफल है कि चौधरी शैताना राम जी के सभी पुत्रों व पुत्र-वधुओं ने उच्च शिक्षा प्राप्त की है। पोते-पोतियों की पढ़ाई पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। चौधरी शैताना राम जी के सबसे छोटे बेटे श्री विजयपाल की पत्नी श्रीमती पदमा अंग्रेजी विषय में एम. ए. तथा बी. एड. डिग्री धारी हैं। उल्लेखनीय है कि श्रीमती पदमा वर्तमान में भानुदा पंचायत के सरपंच पद को सुशोभित कर रही हैं। महिला-सशक्तिकरण की दिशा में परिवार निरन्तर आगे बढ़ रहा है।

भुंवाल परिवार ने आपसी ताल-मेल ,अपनी नई सोच और सूझ-बूझ से हर जगह अपनी ख़ास पहचान स्थापित की है। सामाजिक सरोकारों में सक्रिय सहभागिता निभाने के लिए यह परिवार प्रशंसा का पात्र रहा है। धार्मिक प्रवृत्ति के इस परिवार ने नशावृत्ति से हमेशा दूर रहते हुए हर मुकाम पर समृद्धि प्राप्त की है।

भुंवाल परिवार के अपने मूल निवास-स्थान के गांव भानुदा में पैतृक घर, सिंचित कृषि-भूमि व अन्य जायदाद के अलावा बिग्गाबास श्री डूंगरगढ़ में भानुदा हाउस के नाम से निजी आवास हैं।

व्यावसायिक प्रतिष्ठान

  • रुकमणी ट्रेडर्स( देसाई बीड़ी व पिटारा नमकीन ,श्री डूंगरगढ़ तहसील )
  • श्री राम ट्रेडर्स
  • रुघाराम एन्ड ब्रदर्स, रतनगढ़
  • श्री भलुजी ट्रेडिंग कंपनी, भानुदा
  • सांवरिया ट्रेडिंग कंपनी, बीकानेर
  • विजय इंटरप्राइजेज, भानुदा

चौधरी शैताना राम जी के ज्येष्ठ पुत्र श्री शंकरलाल भुवाल ने विगत 27 वर्षों से ज्यादा समय से सोमाणी ग्रुप की कंपनी के जयपुर में मार्केटिंग मैनेजर के पद पर कार्यरत रहते हुए कर्मठता और विश्वनीयता के बल पर अपनी प्रतिष्ठा प्राप्त की है। ग्रामीण पृष्ठभूमि के इस युवा ने व्यावसायिक क्षेत्र में शानदार सफलता अपने बुलंद हौंसले, लगन, आत्मविश्वास और परिश्रम के सहारे अर्जित की है। सभी भाईयों ने व्यावसायिक क्षेत्र में अपनी पैठ जमाकर समाज के समक्ष एक अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया है।

समाज सेवा

श्री शंकरलाल भुवाल अपने तजुर्बे के आधार पर इस बात पर जोर देते हैं कि अकेले कृषि पर निर्भर रहने से समाज का विकास संभव नहीं हो सकता। कृषि के परम्परागत पेशे के अलावा समाज के पढ़े-लिखे युवाओं को व्यावसायिक गतिविधियों में अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज करवानी चाहिए। साख़ को मजबूत करने से हर क्षेत्र में दबदबा कायम किया जा सकता है। बेहद चिंताजनक बात है कि समाज मे एकजुटता की कमी है। आपसी टांग-खिंचाई के कारण कारण राष्ट्रीय व राज्य दोनों स्तरों पर समाज की राजनीतिक पकड़ कमजोर होती जा रही है। निसंदेह श्री शंकर लाल भुंवाल एक विचारवान नेक इंसान हैं।


External links

References


Back to The Social Workers/The Donors