Madhan

From Jatland Wiki
Jump to: navigation, search

Madhan (मढाण) Madhan (मढान)[1] Madhan (माढण) [2]is a Jat Gotra found in Haryana

Origin

History

योद्धा मोहन मढान - मढान गोत्री जाट, जिसने सन् 1526 के आसपास किलायत (हरयाणा) रियासत की स्थापना की। बाद में इन्हीं के वंशजों से मुस्लिम धर्म अपनाया और चौधरी लियाकत अली खां पाकिस्तान के प्रथम प्रधानमन्त्री इसी खानदान से थे।[3]

पन्द्रहवीं शताब्दी में लोधी के समय तक ये लोग मुसलमान जाट के रूप में समाना, राज्य पटियाला में बसते थे। सर डेञ्जल एवट्सन साहब ने लिखा है कि “मुसलमान हो जाने से इन लोगों ने सिक्खों से तंग आकर पटियाला छोड़ दिया और सरस्वती नदी के किनारे पेहवा नामक स्थान पर आ बसे। ये मढ़ान कहलाने लगे।” पेहवा और थानेसर के बीच मुर्तिजापुर में इन मद्रों का ढहा हुआ एक किला आज भी है। इन लोगों (मढ़ान मद्रों) की करनाल रियासत थी जिसमें 150 गांव थे। ये तीन लाख वार्षिक के मुनाफेदार (आयवाले) थे। इस वंश के मुसलमान मद्रों की बहुत बड़ी संख्या है। कुरुक्षेत्र के समीप 12 गांव हिन्दू जाट मद्रों के हैं। अमृतसर के भावल गांव के सरदार नानूसिंह मद्र ने अपने भाई भागसिंह, रामसिंह को लेकर जगाधरी के पास बूड़िया नामक विशाल किले पर 1764 ई० में अधिकार कर लिया और 200 गांवों पर शासन स्थिर करके एक बूड़िया रियासत बना ली थी।[4]

Distribution in Haryana

Villages in Kurukshetra district

Murtzapur

Villages in Yamunanagar district

Villages in Panipat district

Dharamgarh,

Notable persons

External links

References


Back to Jat Gotras