Teja Foundation

From Jatland Wiki
Jump to navigation Jump to search
Teja Foundation Logo.jpg
Teja Class

Teja Foundation is a social and community development organization based at Jaipur in Rajasthan. It is registered under Rajasthan Societies Registration Act,1958. An executive body is constituted to run the affairs of the Foundation. The Foundation derives its name from the legendary folk-deity Tejaji. Teja Foundation has central office at B M Tower, Opp. Ganga Jamuna Petrol Pump, Gopalpura Bypass, Jaipur-302019, Rajasthan. For more details one can contact Secretary Teja Foundation at Mob:7220-01-7220. Presently Teja Foundation has undertaken following three activities:

1. Community Coaching

2. Community History Writing

3. Community Counseling

Contents

About Teja Foundation

Teja Foundation is a social and community development organization based at Jaipur in Rajasthan. It is a non-profit charitable trust registered in March-2017 under Rajasthan Societies Registration Act,1958. The Foundation derives its name from the legendary folk-deity Tejaji.

The decision of getting the Foundation registered was taken after prolonged due deliberations at the level of acknowledged social activists, intellectuals, professionals and officers in administrative services.

Teja Foundation has been instituted to undertake social development projects and to act as think tank for contemporary issues of social significance. It is committed to provide a potential platform for policy framers, intellectuals, academia, social reformers and enlightened people to educate, to eradicate social evils, to promote research on emerging socio-economic-political concerns, to awaken youth to the contemporary challenges and to offer advice to government, corporates, institutions and individuals.

Mission: A commitment to strive for the noble task of undertaking projects and activities for uplifting the marginalized section of the society and to work for peace, justice, ethical values and communal harmony.

Objectives:

1. To ensure comprehensive progress of the community by undertaking relevant issues and projects in a phased manner.

2. To provide quality coaching with library facility and comprehensive guidance to the talented, diligent and needy students of the community.

3. To work for promoting emotional bonding in the community by way of critically examining policy options and deliberation on various contemporary issues so as to ensure inclusive growth and social cohesion.

4. To highlight the rich history of the community at present thrown in oblivion; and also to reveal the role of the heroes and freedom fighters of the community in freedom struggle and to underline the pivotal part played by its leaders in the post-independent India in the sphere of national building.

Vision:

To work in the spheres of education, enlightenment, social awakening and social welfare.

To empower the community by making the youth competent enough to play their pivotal part on the platform of the national scenario in diverse spheres.


Achievements:

The Foundation launched its first activity on 24th July 2017 by starting coaching for the recruitment conducted in banking and other sectors.

Despite being the first attempt of the Foundation in the field of coaching, its success was significant. Out of 23 students who appeared at the different competitive exams 20 students were selected in govt services.

Inspired by the success scored in the first attempt, the Foundation launched a batch of coaching for RAS exams from 10th December 2017. As many as 85 percent candidates in the batch having cleared the preliminary exam are now engaged in preparing for the RAS Main Exams 2018.

Widening the scope of the project of coaching, the Foundation launched a batch of coaching for the post of lecturers in school education from 11th November 2018.

Along with coaching, the students are provided counselling from time to time. The Foundation seeks services of the competent counsellors and psychologists for this purpose.

A booklet on "100 Years of Social Awakening: With special reference to Bikaner Division" was published and released last year under the supervision and guidance of the Foundation.

A great number of research articles on the role of the Jat rulers, freedom fighters, social reformers and leaders of the community are regularly written and published on Jatland.com

Proposed Activity:

The foundation has recently invited applications for RAS foundation course scheduled to be started in January 2019. The candidates will be shortlisted through a written test and then the shortlisted candidates will be invited for personal interview for final selection.

The foundation is, thus, committed to undertake diverse projects and activities of community development with a view to repaying the debt of the community. The active support of the community in different forms is solicited to implement the proposed plans and to undertake innovative projects significant for the betterment of the community.

An executive body of the Foundation is constituted to run its affairs and conduct its activities.

President : Sh Laxman Burdak, I.F.S. (Retired)

Co-ordinator: Prof. H.R. Isran, Retired Prof.

Secretary: Sh R. S. Chaudhary, Currently an official.

Teja Foundation has its central office at B. M . Towers, Ganga-Jamuna Petrol Pump Circle, Gopalpura Bypass, Jaipur-302019, Rajasthan.

Currently Teja Foundation has confined its activities in the following three spheres :

1. Community Coaching for needy students

2.  Compiling, revisiting and writing Jat History

3. Community Counseling

The Foundation is contemplating a road map for undertaking other activities and projects of vital social significance. The support of the community is required to move ahead with steady steps.

For more details regarding the Foundation one can contact at Mobile number:7220-01-7220

तेजा फाउण्डेशन के उद्देश्य

तेजा फाउण्डेशन के मुख्य उद्धेश्य निम्नानुसार हैं:

  • 1. समाज के सर्वांगीण बहुमुखी विकास से संबन्धित मुद्दों पर योजनाबद्ध रूप से कार्य करना
  • 2. समाज के असहाय/जरूरतमंद तबकों के साथ-साथ महिला सशक्तिकरण की दिशा में विशेष रूप से कार्य करना
  • 3. विद्यार्थियों/बेरोजगार नवयुवकों के लिए शैक्षणिक व कैरियर गाइडेंस हेतु आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करना
  • 4. ऐसे अन्य किसी भी कार्यक्रम/योजना/प्रकल्प का निर्माण/आयोजन/संचालन करना जो कि राष्ट्रीय हितों के अनुरूप किसी व्यक्ति/समाज के विकास या हित में किसी भी प्रकार से अनुसंगिक/सहयोगी हों

तेजा फाउण्डेशन की गतिविधियां

वर्तमान में समाज के समक्ष उत्पन्न चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए समाज के व्यापक एवं दीर्घकालिक हित की सुचिंतित योजनाएं बनाकर सामाजिक सरोकार की गतिविधियां संचालित करने के उद्देश्य से समाज के अनुभवी एवं सामाजिक सरोकारों से जुड़े महानुभावों की आपसी सहमति से तेजा फाउंडेशन की स्थापना कर उसका रजिस्ट्रेशन मार्च 2017 में करवाया गया।

फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष श्री लक्ष्मण बुरड़क, सेवा निवृत आई.एफ.एस. अधिकारी व समाज के इतिहासज्ञ, कम्यूनिटी कोचिंग के संस्थापक संयोजक प्रो. एच. आर. ईसराण प्रतिष्ठित शिक्षाविद तथा सचिव श्री रामस्वरुप चौधरी, समाज-चिंतक व समर्पित समाजसेवी हैं।

विज़न

पाखण्ड-मुक्त, रूढ़ियों से मुक्त, प्रगतिशील, आधुनिक समाज का निर्माण कर सशक्त, समृद्ध व एकजुट समाज का सपना साकार करना।

मिशन

समाज की दमदार उपस्थिति हर क्षेत्र व मंच पर सुनिश्चित करने हेतु सूझ-बूझ व रणनीतिक कौशल के साथ सामाजिक सरोकारों की गतिविधियां संचालित करना।

समाज के सबलीकरण के लिए शिक्षा व रोज़गार में समाज के प्रतिनिधित्व में अभिवृद्धि करना और संसाधनों के स्वामित्व पर विशेष ध्यान केंद्रित करना।

कई दौर की लंबी बैठकों में हुए विचार-विमर्श के उपरांत फिलहाल तात्कालिक आवश्यकता की निम्नलिखित दो गतिविधियां संचालित करने का निर्णय हुआ:

1. अधिकारी वर्ग की सरकारी सेवाओं में समाज के प्रतिनिधत्व में बढ़ोतरी के लिए समाज की जरूरतमंद होनहार प्रतिभाओं का चयन कर उनके लिए गुणवत्तापूर्ण फ्री कोचिंग की व्यवस्था करना।

2. समाज के समृद्ध इतिहास को गुमनामी के अंघेरे से बाहर निकालकर उसका व्यापक प्रचार-प्रसार करना एवं समाज के इतिहास का संकलन, शोधन एवं प्रकाशन करना।

दूरगामी महत्त्व की गतिविधियों का आगाज

तेजा फाउंडेशन के तत्वावधान में समाज के जरूरतमंद होनहार युवाओं के लिए तेजा विला, सन्तोष नगर, गोपालपुरा, जयपुर में बैंक पी. ओ. की निःशुल्क कम्युनिटी लेवल कोचिंग की शरूआत श्री महेंद्र सिंह जी चौधरी, आई.जी. पुलिस, के मुख्य आतिथ्य तथा स्वामी केशवानंद जी की परम्परा में उस संप्रदाय के साधु महंत माधोदास उदासीन जी के सानिध्य में 24 जुलाई को एक सादा कार्यक्रम से हो चुकी है। यह सुखद संयोग है कि 24 जुलाई से ही आर.आर.बी. के बैंक पी.ओ. की वैकेंसी के लिए फॉर्म भरने की शुरुआत हुई। इस अवसर पर कोचिंग के लिए भवन व आवास सुलभ करवाने वाले समाज के भामाशाह श्री पाबुराम जी गठाला, आदर्श जाट महासभा राजस्थान के अध्यक्ष श्री रामनारायण जी चौधरी, तेजा फाउंडेशन के अध्यक्ष एवं जाट लैंड डॉट कॉम वेबसाइट के प्रणेता तथा सेवानिवृत आईएफएस अधिकारी श्री लक्ष्मण जी बुरड़क, कोचिंग संचालन के लिए गठित समिति के संयोजक प्रो. एच. आर. ईसराण तथा सह-संयोजक प्रो. डी.सी. सारण, तेजा फाउंडेशन के सचिव श्री राम स्वरुप चौधरी, वरिष्ठ समाजसेवी श्री लक्ष्मण जी महला, सेवाभावी अन्य समाज बंधु, कोचिंग के लिए चयनित विद्यार्थी अपने अभिभावकों के साथ इन पलों के सहभागी बने ।

कोचिंग के लिए लगभग 20 जिलों से प्राप्त आवेदनों की जांच कर निर्धारित मानदण्ड के अनुरूप मेरिट सूची तैयार की गई । Merit-cum-Performance-cum-Need के पैमाने को ध्यान में रखते हुए Written test और Interview आयोजित करने के बाद उनका समग्र मूल्यांकन कर 30 विद्यार्थी चयनित किए गए जो 13 जिलों का प्रतिनिधित्व करते हैं। इन चयनित अधिकांश स्टूडेंट्स के परिवार में जीवन-यापन का जरिया खेती या मजदूरी है।

कोचिंग के लिए क्लासरूम टीचिंग, स्टडी मटेरियल, ऑनलाइन टेस्ट के लिए स्टूडेंट्स का मेम्बरशिप रेजिस्ट्रेशन, ऑनलाइन टेस्ट सीरीज, लाइब्रेरी सुविधा, आवास व्यवस्था आदि निःशुल्क है।

कोचिंग स्थल पर ही सुसज्जित लाइब्रेरी सुविधा मय आवश्यक पुस्तकों, पत्रिकाओं व समाचार-पत्रों के सुलभ करवाई गई है। ऑन-लाइन टेस्ट के लिए प्रैक्टिस करने हेतु पांच कम्प्यूटर सिस्टम व प्रिंटर आदि स्थापित किए गए हैं। विद्यार्थियों के फॉर्म भरने की व्यवस्था भी कोचिंग स्थल पर कर फीस आदि पर होने वाला व्यय का भुगतान भी फाउंडेशन द्वारा किया गया है। इसके बाद राजस्थान प्रशासनिक सेवाओं (RAS) में भर्ती-परीक्षा के लिए भी कोचिंग शुरू की गई।

2. समाज के समृद्ध इतिहास व साहित्य के संकलन एवं शोधन और समकालीन संदर्भों में उसके विवेचन हेतु डॉ पेमाराम , इतिहासवेत्ता एवं श्री लक्ष्मण बुरड़क, इतिहासज्ञ के संयोजकत्व व मार्गदर्शन में गठित समिति कार्य कर रही है।

जाट कीर्ति संस्थान, चूरू द्वारा प्रकाशित पुस्तक 'समाज जागृति के सौ साल: बीकानेर सम्भाग में शिक्षा और संघर्ष का संक्षिप्त इतिहास' का विमोचन तेजा दशमी ( 31 अगस्त 2017) के अवसर पर ग्रामीण किसान छात्रावास, रतनगढ़ में आयोजित स्मरण- समारोह 'समाज जागृति के सौ साल' में समाज के वयोवृद्ध एवं प्रबुद्धजनों ने किया। इस पुस्तक में संकलित ऐतिहासिक सामग्री, जो बीकानेर सम्भाग के विशेष संदर्भ में है , से संबंधित तथ्यात्मक विवरण व फ़ोटो सुलभ करवाने में तेजा फाउंडेशन के अध्यक्ष एवं जाटलैंड डॉट कॉम (https://www.jatland.com/) के मॉडरेटर श्री लक्ष्मण बुरड़क की महति भूमिका रही है। इस पुस्तक में समाज के इतिहास के विभिन्न पक्षों को नए संदर्भों व कलेवर में आलोकित करने की पहल की गई है।

श्री लक्ष्मण बुरड़क ने स्वयं के स्तर पर प्रयास कर समाज का इतिहास एवं समाज-शिरोमणियों की लोक छवि जाटलैंड डॉट कॉम वेबसाइट (https://www.jatland.com/) पर संकलित कर उसे इंटरनेट के माध्यम से सर्व सुलभ कराने का प्रशंसनीय कार्य कर रहे हैं। श्री बुरड़क साहब समाज के इतिहास के डिज़ीटिकरण का भी प्रशंसनीय कार्य कर रहे हैं।

अनुरोध है कि अगर किसी समाज-बंधु के पास समाज के इतिहास से संबंधित कोई दुर्लभ पुस्तक या दस्तावेज हो तो उसे तेजा फाउंडेशन के अध्यक्ष श्री लक्ष्मण बुरड़क को उपलब्ध करवा दें ताकि उसका डिज़ीटिकरण कर उसे संरक्षित किया जा सके।

आशा है कि समाज के सतत सहयोग एवं मार्गदर्शन से फाउंडेशन की गतिविधियां परवान पर चढ़ सकेंगी।

जाट इतिहास लेखन

प्रोजेक्ट के प्रथम चरण में जाट इतिहास में रुचि रखने वाले समाज के प्रबुद्ध व्यक्तियों से संपर्क कर राजस्थान से संबन्धित जाट इतिहास के तथ्यों को संकलित करने का कार्य प्रारम्भ किया गया है। शेष राज्यों को अगले चरण में लिया जाएगा। केंद्रीय स्तर पर जयपुर में एक इतिहास संकलन समिति गठित की गई है:

1. लक्ष्मण बुरड़क - मोबा: 9826092101, Email:Lrburdak@gmail.com

2. डॉ. पेमा राम - मोबा: 9414316002

3. भलेराम बेनीवाल - मोबा: 9416566478

समाज के जिन प्रबुद्ध व्यक्तियों के पास जाट इतिहास से संबन्धित कोई पुस्तक, अभिलेख, शिलालेख, बड़वा से या बुजुर्गों से सुनी हुई मौखिक या लिखित जानकारी हो तो उपर्युक्त समिति के किसी भी सदस्य से संपर्क कर उपलब्ध कराई जा सकती है।

बैंक पी.ओ. कम्यूनिटी कोचिंग

तेजा विला, कम्यूनिटी कोचिंग सेंटर

'तेजा फाउंडेशन' के एजुकेशनल प्रोजेक्ट 'कम्यूनिटी कोचिंग' के अंतर्गत कोचिंग सेंटर जयपुर में Bank PO परीक्षा की तैयारी हेतु फ्री कोचिंग दिनांक 24.7.2017 से प्रारंभ की गई। इस अवसर पर कोचिंग के लिए भवन व आवास सुलभ करवाने का महति कार्य समाज के भामाशाह श्री पाबुराम जी गठाला द्वारा किया गया। जिला-संयोजकों द्वारा संबधित जिले में जिला व तहसील स्तर पर फॉर्म वितरण तथा जमा करने की व्यवस्था हेतु समन्वय किया गया।

केन्द्रीय स्तर पर 'कम्यूनिटी कोचिंग' इंस्टीट्यूट के संचालन के लिए एक टीम गठित की गयी, जो कि इस इंस्टीट्यूट से जुड़े सभी मसलों के लिए अधिकृत है; यह इस प्रकार से है:

1. संयोजक : प्रो. एच. आर. इसराण (मो: 9468966004)

2. सह-संयोजक : डॉ. डी. सी. सारण (मो: 9468966005; 9982660002)

3. कोषाध्यक्ष : महेंद्र सिंह भामू (मो:8003320077)

4. प्रचार-प्रसार : बनवारी लाल जाट (घोसल्या) (मो: 9414086655)

'तेजा फाउंडेशन' के एजुकेशनल प्रोजेक्ट 'फ्री कम्यूनिटी कोचिंग' इंस्टीट्यूट में प्रवेश के सम्बंध में जानकारी के लिए संचालन समिति के उपर्युक्त सदस्य के दिए गए मोबाइल नम्बर पर संपर्क किया जा सकता है।

प्रवेश-प्रक्रिया के संबंध में निर्देश, जिला संयोजकों की मोबाइल नंबर सूची तथा फार्म यहाँ दिये जा रहे हैं।

तेजा फाउंडेशन कोचिंग का शुभारंभ 24.7.2017

तेजा फाउंडेशन के तत्वावधान में समाज के जरूरतमंद होनहार युवाओं के लिए जयपुर में बैंक पी.ओ. की निःशुल्क कम्युनिटी लेवल कोचिंग का विधिवत शुभारंभ दिनांक 24.7.2017 को "तेजा विला" गंगा-जमना पेट्रोल पंप चौराहा, गोपालपुरा बायपास,जयपुर में एक सादे समारोह में हुआ। उदघाटन समारोह में उपस्थित महानुभाव थे:

तेजा फाउंडेशन द्वारा सर्वसम्मति से वरिष्ठ एवं अनुभवी शिक्षाविदों की गठित समिति ने 20 से अधिक जिलों से प्राप्त आवेदनों की जांच कर मेरिट के मानदण्डों के अनुसार Merit-cum-Performance-cum-Need के पैमाने के आधार पर Written test और Interview के बाद अभ्यर्थियों की अंतिम चयन सूची जारी की ! इन चयनित छात्रों में से 7 स्टूडेंट्स ऐसे हैं, जिनके या तो माता-पिता दोनों ही नहीं हैं या फिर पिता दिवंगत हैं और परिवार-पालन की जिम्मेदारी उन्हीं के कंधो पर है। चयनित अधिकांश स्टूडेंट्स के परिवार में जीवन-यापन का जरिया मजदूरी या खेती है।

कोचिंग के लिए क्लासरूम टीचिंग, स्टडी मटेरियल, ऑनलाइन टेस्ट के लिए स्टूडेंट्स का मेम्बरशिप रेजिस्ट्रेशन, ऑनलाइन टेस्ट सीरीज, लाइब्रेरी सुविधा, आवास व्यवस्था आदि निःशुल्क थी।

यह सुखद संयोग था कि 24 जुलाई 2017 से ही आर.आर.बी. के बैंक पी.ओ. की वैकेंसी के लिए फॉर्म भरने की शुरुआत हुई।

RAS-2018 परीक्षा हेतु कोचिंग प्रारम्भ 10.12.2017

'तेजा फाउंडेशन' के एजुकेशनल प्रोजेक्ट 'कम्यूनिटी कोचिंग' में आरएएस के लिए प्रवेश-प्रक्रिया सितंबर-अक्टूबर 2017 प्रारंभ में प्रारंभ की गई। जिला-संयोजकों द्वारा संबधित जिले में जिला व तहसील स्तर पर फॉर्म वितरण करने की व्यवस्था का समन्वय किया गया। केन्द्रीय स्तर पर इंस्टीट्यूट के संचालन के लिए उपरोक्त कमिटी गठित की गयी है, जो कि इस इंस्टीट्यूट से जुड़े सभी मसलों के लिए अधिकृत है। समस्त प्रक्रिया पूर्ण कर RAS-2018 परिक्षा हेतु कोचिंग दिनांक 10.12.2017 से प्रारम्भ की गई.

विस्तृत विवरण के लिये नीचे फॉर्मेट दिये गए जिनका उपयोग जानकारी के लिए और फॉर्म भरने के लिए डाउन लोड कर किया गया है।

RAS Coaching Application Forms and Instructions

RAS-2018 परीक्षा हेतु कोचिंग की समीक्षा 27.11.2018

RAS-2018 परीक्षा हेतु कोचिंग के लिए चयनित उम्मीदवारों की फ़ाइनल परीक्षा की तैयारी की समीक्षा दिनांक 27.11.2018 को आयोजित की गई। तेजा फाउंडेशन टीम की इस ख़ास बैठक में समाज के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारियों, शिक्षाविदों, प्रशासनिक पदों पर नव चयनित अधिकारियों सहित कोचिंग फ़ैकल्टी के साथ सम्पन्न बैठक में कुल 21 मौजीज लोग उपस्थित हुए। समीक्षा बैठक में समाज के निम्न प्रबुद्धगण उपस्थित रहे:

  • श्री महेंद्र सिंह चौधरी - आई.जी. पुलिस, मुख्य अतिथि
  • श्री ओमप्रकाश जाट - आईपीएस (2017) विशिष्ट अतिथि
  • श्रीमती सुमन नाला - आरपीएफ़ (2016) विशिष्ट अतिथि
  • सुश्री प्रेरणा कालेर - RAS (2016)
  • श्री संजय गौरा - (2016)
  • श्री लक्ष्मण बुरड़क - तेजा फाउंडेशन के अध्यक्ष एवं जाट लैंड डॉट कॉम वेबसाइट के प्रणेता सेवा निवृत आईएफएस अधिकारी
  • डॉ. पेमाराम - प्रसिद्ध इतिहासकर
  • प्रो. एच. आर. ईसराण - कोचिंग संचालन के लिए गठित समिति के संयोजक
  • श्री राम स्वरुप चौधरी - तेजा फाउंडेशन के सचिव
  • श्री प्रमोद औलानिया - क्लियर विज़न जयपुर
  • सेवाभावी अन्य समाज बंधु

समीक्षा बैठक से पूर्व इस अभियान में सहयोग करनेवाले सभी महानुभावों को धन्यवाद ज्ञापन किया गया। RAS-2018 की मुख्य परीक्षा के लिए तेजा फाउंडेशन के सौजन्य से संचालित कम्युनिनिटी कोचिंग के बैच का मार्गदर्शन एवं उन्हें मोटीवेट करने हेतु समाज सेवा की भावना से प्रेरित होकर श्री ओमप्रकाश जाट आईपीएस (2017) और उनकी पत्नी श्रीमती सुमन नाला - आरपीएफ़ (2016) ने 23 नवम्बर 2018 से 29 नवम्बर तक एक सप्ताह तक प्रतिदिन सुबह से शाम तक विद्यार्थियों के मध्य उपस्थित रहे। उन्होने कोचिंग प्राप्त कर रहे विद्यार्थियों की तैयारी का फ़ीड बैक लेकर आर.ए.एस. फ़ाइनल परीक्षा की प्रभावी तैयारी करने के लिए उपयोगी टिप्स प्रदान कर सफलता की मंजिल तक पहुंचने के अपने अनुभव साझा किए। समाज के दूरगामी हित को साधने की दिशा में कार्यरत तेजा फाउंडेशन के इस प्रोजेक्ट के महत्त्व को समझते हुए इन दोनों अधिकारियों ने स्वप्रेरणा से अपना योगदान प्रदान करने हेतु छुट्टियाँ लेकर एवं व्यक्तिगत व पारिवारिक जीवन की व्यस्तता की परवाह किए बिना एक सप्ताह का क़ीमती वक़्त समाज के होनहार एवं जरूरतमंद विद्यार्थियों के साथ बिताने का अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया। मुख्य परीक्षा के बैच में सम्मिलित विद्यार्थियों से प्राप्त फीडबैक से स्पष्ट है कि अधिकारी-द्वय द्वारा प्रदत्त मार्गदर्शन एवं मोटिवेशन उनको प्रतियोगी परीक्षा में सफ़लता हासिल करने में सहायक सिद्ध होगा। समाज के इन युवा अधिकारियों के प्रति तेजा फाउंडेशन आभार प्रकट करता है।

सचिव तेजा फ़ाउंडेशन ने अवगत कराया कि आरएएस प्रारम्भिक परीक्षा का तेजा फ़ाउंडेशन क्लास का परिणाम बहुत ही शानदार रहा है। वर्तमान में संचालित RAS कोचिंग बैच के 85 प्रतिशत अभ्यर्थियों द्वारा RAS प्री-परीक्षा क्वालीफाई करने का कीर्तिमान स्थापित करने से उत्साहित होकर तेजा फाउंडेशन ने जनवरी 2019 से RAS का फाउंडेशन कोर्स प्रारम्भ करने का निर्णय लिया है। बैठक में फाउंडेशन की अब तक की गतिविधियों एवं उपलब्धियों से उपस्थित सज्जनों को अवगत करवाया गया तथा फाउंडेशन की दूरगामी महत्त्व की परियोजनाओं पर विस्तृत विचार-विमर्श किया। कोचिंग के दौरान आई समस्याओं से अवगत कराया गया और भविष्य की कार्य-आयोजना तैयार की गई. सभी ने फाउंडेशन की गतिविधियों एवं उपलब्धियों की सराहना की तथा RAS भर्ती परीक्षा 2019 हेतु फाउंडेशन कोर्स जनवरी 2019 से संचालित करने पर सहमति जताई। इस कोर्स हेतु आर्थिक एवं अन्य आवश्यक सहयोग प्राप्त करने एवं कोचिंग को प्रभावी ढंग से संचालित करने की कार्ययोजना पर व्यापक विचार-विमर्श हुआ तथा सहमति के बिंदुओं पर ठोस कार्रवाई करने का निर्णय लिया गया।

इस अवसर के कुछ चित्र संलग्न हैं।

RAS-2019 परीक्षा के लिए कोचिंग हेतु प्रवेश प्रारम्भ

RAS-2019 प्रवेश प्रारम्भ की सूचना
RAS-2019 रजिस्ट्रेशन प्रारम्भ की सूचना
RAS-2019 Application Form

RAS (Pre.)-2018 में बेहतरीन परिणाम के बाद आगामी बैच RAS-2019 की परीक्षा में सफलता सुनिश्चित करने हेतु अभ्यर्थियों को समुचित तैयारी कराने की दिशा में तेजा फाउंडेशन का बढ़ता कदम...

  • RAS परीक्षा की गहन तैयारी के लिए माह जनवरी 2019 से Foundation Course प्रारंभ...
  • अनुभवी विषय-विशेषज्ञों के मार्गदर्शन में जयपुर में निःशुल्क क्लासेज का संचालन...
  • फाउंडेशन कोर्स में प्रवेश के लिए 4 नवम्बर 2018 से आवेदन आमंत्रित...
  • सीमित सीट, प्रवेश स्क्रीनिंग टेस्ट के द्वारा...
  • स्क्रीनिंग टेस्ट दिसम्बर माह में प्रस्तावित...
  • टेस्ट की तिथि की सूचना आवेदक को यथा समय दे दी जाएगी...
  • कोर्स की अवधि : लगभग एक वर्ष...
  • स्क्रीनिंग टेस्ट में चयनित अभ्यर्थी से अध्ययन सामग्री/नोट्स व काउंसलिंग तथा टेस्ट सीरीज आदि के क्रम में ग्यारह हजार रु. अंश प्रतिपूर्ति राशि के रुप में अपेक्षित...
  • सेंटर पर प्रतियोगी परीक्षा से सम्बंधित प्रामाणिक स्तरीय अध्ययन सामग्री/नोट्स आदि की पर्याप्त व्यवस्था...
  • प्रवेश हेतु स्क्रीनिंग टेस्ट दिनांक 16 दिसंबर 2018
  • संलग्न एप्लिकेशन फॉर्म को पूर्णतया भरकर डाक/कूरियर या व्यक्तिगत रूप से 5 दिसंबर 2018 तक निम्न पते पर जमा करायें :-

सचिव तेजा फाउंडेशन, बी. एम. टावर, मेट्रो पिलर नं. 40 के सामने, गंगा-जमुना चौराहा, गोपालपुरा बायपास, जयपुर -302019

सम्पर्क सूत्र : 7220-08-7220, 7220-09-7220

सचिव

तेजा फाउंडेशन

आरएएस के लिए सामान्य मार्ग दर्शन

RAS की फुल फॉर्म है - Rajasthan Administrative Service (राजस्थान प्रशासनिक सेवा)। इसकी परीक्षा राजस्थान लोक सेवा आयोग (RPSC) द्वारा आयोजित की जाती है। परीक्षा में बैठने के लिए आयु 21-35 वर्ष के बीच होनी चाहिए। आरपीएससी द्वारा आयोजि यह सबसे बड़ी भर्ती परीक्षा है। आरएएस में चयन के बाद में राज्य प्रशासन में किसी उच्च पद पर सेवा करनी पड़ती है। यथा - एसडीएम, एडीएम, उप सचिव, संयुक्त सचिव, उपायुक्त, विशेष सचिव आदि। राजस्थान प्रशासनिक सेवा में जाने के लिए प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार की प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है। प्रारम्भिक परीक्षा ओब्जेक्टिव होती है। प्रारंभिक परीक्षा अच्छे अंको से पास करने वाले विद्यार्थी मुख्य परीक्षा के लिए चयनित हो जाते है। प्रारम्भिक परीक्षा के विपरीत मुख्य परीक्षा में लघु, अति-लघुतरात्मक और निम्बधात्मक रूप में सवाल आते हैं जिनका जवाब संक्षेप और विस्तार में देना होता है। मुख्य परीक्षा में आई मेरिट के आधार पर इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। इंटरव्यू में सफल होने वाले RAS के लिए चुने जाते हैं।

Teja Foundation SSC Test Series

Teja Foundation RAS Test Series

कृपया ध्यान दें !
Teja Foundation RAS Test Form

तेजा फाउंडेशन द्वारा जयपुर में संचालित फ्री कम्युनिटी कोचिंग के प्रोजेक्ट के तहत RAS भर्ती परीक्षा की तैयारी हेतु प्रत्येक रविवार को टेस्ट आयोजित करना प्रस्तावित है। इस टेस्ट सीरीज के बैच में शामिल होने के इच्छुक समाज के जरूरतमंद अभ्यर्थियों से 25 मार्च 2018 तक* आवेदन आमंत्रित हैं। इस हेतु संलग्न फॉर्म को भरकर 7220087220 पर व्हाट्सअप कर दें। फॉर्म के साथ कोई दस्तावेज संलग्न नहीं करना है। चयन स्क्रीनिंग टेस्ट के माध्यम से होगा, जिसकी तिथि से अवगत करा दिया जायेगा।

नोट :- फॉर्म डाक या कोरियर से नहीं भेजें, ना ही इसे ऑफिस आकर जमा कराना है; बल्कि संलग्न फॉर्म को पूरा और स्पष्ट भरकर दिए गए उपरोक्त नम्बर पर सिर्फ व्हाट्सअप करना है।


दिनांक 12.03.2018

सचिव तेजा फ़ाउंडेशन


* - अब आवेदन 4 अप्रेल 2018 तक स्वीकार किए जावेंगे।

तेजा फाउंडेशन के नवीनतम सामाजिक सरोकार

तेजा फाउंडेशन टीम
RAS कोचिंग में प्रवेशित विद्यार्थी
सुश्री प्रेरणा कालेर, RAS

तेजा फाउंडेशन के तत्वावधान में समाज के जरूरतमंद होनहार युवाओं को विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करवाने के लिए संचालित निःशुल्क कम्युनिटी कोचिंग की श्रंखला में राजस्थान प्रशासनिक सेवाओं (RAS) में भर्ती हेतु फ्री कोचिंग का उद्घाटन एवं RAS के बैच 2013 एवं 2016 में समाज के चयनित युवाओं का अभिनन्दन समारोह 10 दिसम्बर 2017 को मूंड मैरिज पैलेस, मानसरोवर, जयपुर में भव्य स्वरूप में आयोजित हुआ।

समारोह में समाज के सम्माननीय महानुभाव, समाजसेवी, प्रशासनिक अधिकारी एवं पुलिस महकमे के आला अधिकारी उपस्थित थे। समारोह की शोभा बढ़ाने वाले समाज के सितारों में शामिल थे :

समारोह की शुरूआत समाज के आराध्य देव वीर तेजाजी की तस्वीर पर समाज के अग्रणी पंक्ति की विभूतियों द्वारा माल्यार्पण तथा श्री मनजीत ख्यालिया टीम द्वारा प्रस्तुत तेजा आरती से की गई ।

तेजा फाउंडेशन के अध्यक्ष श्री लक्ष्मण बुरड़क, सेवा-निवृत आई.एफ.एस अधिकारी, ने तेजा फाउंडेशन के सामाजिक हित के विभिन्न प्रोजेक्ट्स यथा समाज के इतिहास का संकलन, समग्र स्वरूप में लेखन व परिशोधन तथा समाज के जरूरमंद युवाओं को विभिन्न पदों की भर्ती के लिए आयोजित परीक्षाओं की तैयारी करवाने हेतु तेजा क्लासेज़ के नाम से प्रदान की जाने वाली फ्री कम्यूनिटी कोचिंग के संचालन का विस्तृत विवरण प्रस्तुत किया। वर्तमान समय में युवा वर्ग एक ट्रांजीशन काल से गुजर रहा है और अनेक सामाजिक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है जो समाज में पहले व्याप्त नहीं थी। आधुनिक जीवन की इन जटिलताओं और समय की जरूरत को ध्यान में रखते हुए समाज के युवाओं को कॅरिअर कॉउंसलिंग/गाइडेंस व साइकोलॉजिकल प्रोब्लेम्स के निवारण हेतु फाउंडेशन के तत्वावधान में कम्यूनिटी कॉउंसलिंग की शुरूआत नए वर्ष से करने की घोषणा की गई। जिसके अंतर्गत तेजा फाउंडेशन द्वारा कैरियर के संबंध में काउंसलिंग तो दी ही जाएगी साथ ही साउकोलोजिकल और सोशियल काउंसलिंग भी प्रदान की जाएगी।

कम्युनिटी कोचिंग के संयोजक/ समन्वयक प्रोफेसर एच.आर.ईसराण, पूर्व प्राचार्य कॉलेज शिक्षा, ने तेजा फाउंडेशन के तहत RAS की तैयारी हेतु संचालित होने वाली फ्री कम्यूनिटी कोचिंग के स्वरूप, गुणवत्ता युक्त कोचिंग की विशिष्ट विशेषताओं, कोचिंग में उपलब्ध सुसज्जित लाइब्रेरी मय अन्य समग्र सुविधाओं एवं कोचिंग में प्रवेशित विद्यार्थियों के चयन हेतु अपनाई गई need-cum-merit पर आधारित चयन-प्रक्रिया पर प्रकाश डाला। नए जमाने की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए कोचिंग सेंटर पर सुसज्जित लाइब्रेरी, सीसी टीवी कैमरा, biomatric attendance machine, कम्प्यूटर केबिन मय कंप्यूटर सेट्स, wifi आदि सुविधाओं से युक्त सेंटर पर कोचिंग में अपनाई जाने वाली टीचिंग टेक्निक्स एवं विद्यार्थियों की कम्युनिकेशन स्किल व थिंकिंग स्किल को परिष्कृत करने के लिए किए जाने वाले नवाचारों की जानकारी भी प्रोफेसर ईसराण ने अपने उद्बोधन में प्रदान की।

नवल किशोरजी गोदारा द्वारा स्थापित लक्ष्मण लाइब्रेरी

उल्लेखनीय है कि कोचिंग सेंटर पर लाइब्रेरी व क्लास रूम स्थापित कर उन्हें सुसज्जित करने का व्यय भार बाड़मेर निवासी श्री नवल किशोरजी गोदारा ने अपने पिता श्री स्वर्गीय श्री लक्ष्मणजी गोदारा की स्मृति में वहन करने के साथ-साथ फाउंडेशन को आवश्यक योगदान प्रदान करने की घोषणा समारोह में कर समाज-सेवा की अनुकरणीय मिसाल कायम की है।

प्रो. डी.सी.सारण, सह-संयोजक, ने समारोह में उपस्थित समाज की शख्शियतों, भामाशाहों एवं फाउंडेशन की गतिविधियों के जिला समन्वयकों का परिचय दिया तथा फाउंडेशन की गतिविधियों के विभिन्न पहलुओं को उजागर किया।

समारोह में डॉ. पेमाराम, श्री एन.आर. चौधरी, श्री बी.आर.ग्वाला, श्री महेंद्र सिंह, श्री सवाई सिंह, श्री जस्साराम चौधरी, श्री राजाराम मील, नवल किशोर गोदारा, डॉ. भरत सारण, श्री गोपाल राम मण्डा आदि वक्ताओं ने अपने प्रेरणादायी उद्बोधन से युवाओं को अपने सँजोए सपने साकार करने की दिशा में संकल्प शक्ति के साथ सजगता से आगे बढ़ते रहने के लिए प्रेरित किया।

RAS batches 2013 & 2016 में समाज के चयनित युवाओं, जिनका अभिनन्दन समारोह में हुआ ,उन्होनें कोचिंग में प्रेवेशित विद्यार्थियों का प्रभावी मार्गदर्शन किया। आर.ए.एस. प्रोबेशनर श्री सुखराम पिंडेल, श्री महावीर सिंह गढ़वाल एवं आर.ए. एस. बैच 2016 में उच्च रैंक हासिल कर चयनित होने वाले सितारे श्री संजय गौरा, डॉ. प्रतिभा पूनियां व सुश्री प्रेरणा कालेर ने आर.ए.एस. परीक्षा की प्रभावी तैयारी करने के लिए उपयोगी टिप्स प्रदान कर सफलता की मंजिल तक पहुंचने के अपने अनुभव साझा किए।

समारोह में श्री बनवारी लाल एवं श्री सत्यनारायण थोरी ने शानदार लीलण घोड़ी नृत्य प्रस्तुत कर ख़ूब तालियां बटोरीं।

तेजा फाउंडेशन को योगदान करने वाले समाज के भामाशाहों श्री पाबुरामजी, श्री रामगोपाल मंडा बिकानेर, नवल किशोर गोदारा, श्री आजाद चौधरी (अलवर जाट समाज की टीम के साथ), फाउंडेशन के संरक्षक श्री महेंद्र सिंह चौधरी, कोचिंग सेंटर को सुसज्जित करने में अपना अमूल्य मार्गदर्शन करने वाले जयपुर में क्लियर विज़न नामक कोचिंग के संचालक समाज के होनहार युवा श्री प्रमोद औलानिया व समारोह-स्थल (मुंड मैरिज पैलेस) के मालिक श्री गोपाल मूंड का सम्मान किया गया।

फाउंडेशन के सचिव श्री रामस्वरुप चौधरी ने वर्तमान दौर में समाज के समक्ष उत्पन्न चुनौतियों का मुकाबला करने के लिए समाज की एकजुटता पर बल देते हुए अतिथियों के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया तथा फाउंडेशन की गतिविधियों के संचालन में प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष सहयोग प्रदान वाले महानुभावों का आभार प्रकट किया।

समारोह का शानदार संचालन श्री हरिराम किंवाडा ने किया।

समारोह के उपरांत सभी ने गंगा जमुना पेट्रोल पंप के सामने किराए के भवन में संचालित हर दृष्टि से सुसज्जित इस कम्युनिटी कोचिंग सेंटर का अवलोकन कर फाउंडेशन द्वारा संचालित समाज के दूरगामी हित के प्रोजेक्ट की सराहना की।

तेजा फाउंडेशन में दादी चंद्रो तोमर 11.1.2018

86 साल से भी ज्यादा उम्र वाली दादी चंद्रो तोमर ‘शूटर दादी’ और ‘रिवाल्वर दादी‘ के नाम से मशहूर हैं। इनके नाम 25 से अधिक राष्ट्रीय चैंपियनशिप खिताब दर्ज हैं। दिनांक 11.1.2018 को दादी चंद्रो तोमर तेजा फ़ाउंडेशन जयपुर पधारी और आरएएस कोचिंग प्राप्त कर रहे बच्चों को संबोधित किया। उनके सम्बोधन से इन बच्चों में नई ऊर्जा का प्रवाह हुआ। दादी चंद्रो तोमर के बारे में अधिक जानकारी के लिए पढ़ें - https://www.jatland.com/home/Chandro_Tomar इस अवसर के कुछ चित्र यहाँ संलग्न हैं:

मनोचिकित्सक डॉ दारासिंह पूनिया द्वारा विमर्श 23.2.2018

जयपुर के प्रसिद्ध मनोचिकित्सक डॉ. दारासिंह पूनिया दिनांक 23 फरवरी 2018 को तेजा फ़ाउंडेशन जयपुर पधारे और आरएएस कोचिंग प्राप्त कर रहे बच्चों को दृश्य-श्रव्य माध्यम से संबोधित किया। समाज में व्याप्त मानोविकारों के लक्षण और उनको दूर करने के उपाय सुझाए। उनके सम्बोधन और दिशा निर्देशों से इन बच्चों में नई ऊर्जा का प्रवाह हुआ। कुछ बच्चों ने अपनी व्यक्तिगत समस्याओं के संबंध में भी प्रथक से मार्गदर्शन प्राप्त किया।

तेजा दशमी समारोह दिनांक 19.9.2018

तेजा दशमी समारोह के अवसर पर दिनांक 19.9.2018 को दादी चंद्रो तोमर तेजा फ़ाउंडेशन जयपुर पुनः पधारी और आरएएस कोचिंग प्राप्त कर रहे बच्चों को पुनः संबोधित किया। कोचिंग की प्रगति से अवगत हुई और बच्चों को सफलता के सूत्र बताये. उनके सम्बोधन से इन बच्चों में नई ऊर्जा का प्रवाह हुआ।

दिनांक 19.9.2018 को ही मध्य्प्रदेश से जाट सभा धार के जाट समाज के समाजसेवी लीलाधर जी दांदक, बाबूलाल जी फौजी, आशारामजी, जगदीश कलवानिया, राहुल जाट गोपाल जी व आदर्श जाट महासभा मध्यप्रदेश के अध्यक्ष रामनरायण चौधरी दिनांक 19.9.2018 को दादी चंद्रो तोमर के साथ ही तेजा फ़ाउंडेशन जयपुर पधारे और आरएएस कोचिंग प्राप्त कर रहे बच्चों को संबोधित किया। मध्य प्रदेश के समाज सेवी यहाँ से ताजा जन्म स्थली खरनाल गए. वहाँ से जयपुर जाते समय सुरसुरा में सत्यवादी वीर तेजाजी महाराज के दर्शन किये. सुरसुरा में धर्मीचंद जी को मध्यप्रदेश से जाट समाज के सामाजिक लोगों की खबर लगते है धर्मीचंद जी खाचरिया, व इनकी टीम मुकेशजी खाचरिया,शिवराज सुरसुरा मिश्रीलाल जी हनुमान जी मूलचंद जी अरुण जी लक्ष्मण जी सुरसुरा परसुराम जी जाजुन्दा शंभूराम जी दीपकजी भागचंद जी रामावतार जी व समस्त आदर्श जाट महासभा रूपनगढ़ अपनी पूरी टीम के साथ मन्दिर प्रांगण में आये और मध्यप्रदेश से आये सभी का दिल से जोरदार स्वागत किया.

इस अवसर पर जम्मू से चौधरी कमल सिंह भी पधारे और उन्होने जम्मू कश्मीर में वहाँ के निवासियों के सीमापार आतंकवादियों द्वारा मारे जाने पर शहीद का दर्जा देने के संबंध में चर्चा की. हरयाणा से डॉ पूनम मान बुर्रा, महिला अध्यक्ष बुर्रा खाप और प्रदेश प्रवक्ता बीजेपी तथा डॉ संगीता दहिया सामाजिक कार्यकर्ता भी पधारीं और आरएएस कोचिंग प्राप्त कर रहे बच्चों को संबोधित किया।

इस अवसर पर राजस्थान विद्युत मंडल के अधीक्षण अभियंता ने संजय सिंह नेहरा ने राजस्थान में विद्युत उत्पादन, वितरण तथा रोजमर्रा की समस्याओं के संबंध में संबोधन किया.

टीचर्स ग्रेड-1 का दीक्षांत समारोह 26.12.2018

26.12.2018 को तेजा फ़ाउंडेशन में 40 दिन का टीचर्स ग्रेड-1 के लिए शॉर्ट मॉड्यूल कोचिंग करने वाले बच्चों का दीक्षांत समारोह था. कोचिंग प्रदाता अमले के साथ, अध्यक्ष लक्ष्मण बुरड़क एवम् सचिव रामस्वरूप चौधरी तेजा फ़ाउंडेशन, अतिथियों में बाड़मेर से भरत सारण 50 विलेजर्स, समाज सेवी नवलजी गोदारा के एनआरआई भाई टीकु सिंह, प्रमोद ओलानिया क्लियर विज़न, प्रोफेसर डालचंद सारण, डॉ. देवेंद्र खीचड़ सीकर, महेंद्र भामू, आदि उपस्थित हुये. इस बैच में सर्व समाज के लिए कोचिंग रखी गई थी. समारोह में फीडबैक लिया गया जिसमें उनको इस अल्पावधि में दी गई कोचिंग को काफी उपयोगी बताया गया.

तेजा फाउंडेशन का भव्य वार्षिक समागम 17.3.2019

शिक्षा व समाज सेवा के ज़रिए सामाजिक उत्थान सुनिश्चित कर राष्ट्र निर्माण के पुनीत कार्य में योगदान देने को संकल्पित तेजा फाउंडेशन का वार्षिक समागम रविवार 17 मार्च 2019 को भक्त शिरोमणि श्रीमद धन्ना पीठाधीश्वर श्री बजरंग देवाचार्य जी महाराज एवं श्रीमद दादू पीठाधीश्वर श्री गोपाल दास जी महाराज के पावन सानिध्य में हरिवन पैलेस, मानसरोवर, जयपुर में आयोजित हुआ।

समारोहपूर्वक आयोजित इस भव्य समागम में राजस्थान एवं अन्य राज्यों में सामाजिक सरोकारों से जुड़े महानुभावों एवं तेजा फाउंडेशन के कोचिंग क्लासेज प्रोजेक्ट से जुड़े विद्यार्थियों व कोचिंग फैकल्टी की गरिमामय उपस्थित रही। लगभग एक हज़ार की संख्या में उपस्थित सामाजिक सरोकारी सज्जनों व तेजा क्लासेज के विद्यार्थियों ने तेजा फाउंडेशन के इस कार्यक्रम को भव्यता प्रदान की।

फाउंडेशन की ओर से उद्बोधन

तेजा क्लासेज के संयोजक प्रोफेसर एच. आर. ईसराण, पूर्व प्राचार्य कॉलेज शिक्षा, ने अपने स्वागत उद्बोधन में समारोह में पधारे अतिथियों का हार्दिक स्वागत एवं अभिनन्दन किया। उन्होंने समाज की जरूरतमंद प्रतिभाओं को निखार कर उन्हें प्रशासनिक एवं अन्य सेवाओं हेतु आयोज्य भर्ती परीक्षाओं में सफ़लता अर्जित करने के लिए सक्षम बनाने हेतु संचालित तेजा क्लासेज की अब तक की उपलब्धियों से सभी को अवगत करवाया। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि Educate, Engage, Empower थीम पर रचनात्मक कार्य करने से ही समाज का सबलीकरण सुनिश्चित हो सकता है। एकजुटता और सामंजस्यता की जरूरत पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि अकेली बूंद का कोई महत्व नहीं होता परंतु असंख्य बूंदे जब आपस में मिल जाती हैं तो दरिया का रूप धारण कर आगे प्रवाहित होने में सक्षम हो जाती हैं।

तेजा फाउंडेशन के अध्यक्ष श्री लक्ष्मण बुरड़क, रिटायर्ड आई. एफ. एस, ने फाउंडेशन के गठन की पृष्ठभूमि, उसके उद्देश्य एवं विजन पर समुचित प्रकाश डालते हुए तेजा क्लासेज का दायरा विस्तृत करने एवं भावी योजनाओं की रूपरेखा से अवगत करवाया। समाज के इतिहास को नए तथ्यों के आलोक में लिपिबद्ध कर उसे संरक्षित करने, समाज के इतिहास पर लिखी गई दुर्लभ पुस्तकों को जाट लैंड डॉट कॉम पर डिजिटलाइज़ करने, जाट विकिपीडिया पर समाज के इतिहास को सर्वसुलभ कराने एवं समाज के इतिहास का पुनर्लेखन तथ्यान्वेषी नज़रों से करने के क्रम में फाउंडेशन द्वारा किए जा रहे प्रयासों एवं उपलब्धियों का उल्लेख किया।

फाउंडेशन के सचिव श्री रामस्वरूप चौधरी ने अपने दिल के उद्गार व्यक्त करते हुए कहा कि तेजा फाउंडेशन एक ऐसा मिशन है जिसके पाँव ज़मीन पर हैं तो निगाहें आसमान पर हैं। फाउंडेशन के मिशन को स्पष्ट करते हुए उन्होंने कहा कि यह एक गैर-राजनीतिक प्लेटफार्म है, जहां समाज के दूरगामी हित से संबंधित मुद्दों पर रचनात्मक कार्य संपादित किया जाता है। भावपूर्ण संबोधन में उन्होंने सभी को विश्वास दिलाया कि फाउंडेशन निष्ठा एवं पारदर्शिता के साथ अपनी सभी गतिविधियां संचालित करेगा। समाज के बेहतर भविष्य के लिए संचालित इस मिशन को परवान चढ़ाने के लिए उन्होंने समाज के सतत सहयोग एवं मार्गदर्शन की जरूरत पर जोर दिया।

अतिथियों के उद्बोधन
  • फिफ्टी विलेजर्स संस्थान, बाड़मेर के प्रणेता डॉक्टर भरत सारण ने अपने ओजपूर्ण मोटिवेशनल स्पीच में विद्यार्थियों को सफ़लता अर्जित करने के प्रभावी टिप्स प्रदान किए।
  • इसी क्रम में कारगिल हीरो महावीर चक्र विजेता नायक दिगेंद्र कुमार (परस्वाल) के ओजस्वी उद्बोधन ने सबका मन मोह लिया। उन्होंने समाज से आने वाले कल के सुनहरे सपनों को साकार करने हेतु संकल्पित फाउंडेशन को तन-मन-धन से सहयोग प्रदान करने की अपील की।
  • जम्मू-कश्मीर जाट महासभा अध्यक्ष चौ. मनमोहन सिंह ने तेजा फाउंडेशन जैसा संस्थान हर राज्य और जिले में स्थापित करने की ज़रूरत पर बल दिया।
  • दिल्ली विश्वविद्यालय की प्रो. निधि वत्स ने उम्मीद जताई कि आगे चलकर तेजा फाउंडेशन एक ऐसी यूनिवर्सिटी का रूप धारण कर सकेगा जो आने वाली पीढ़ियों को दिशा देने की भूमिका में होगा।
  • हरियाणा से 'जाट रत्न' पत्रिका के संपादक श्री जसबीर सिंह मलिक ने इस संस्थान को पूरे देश में समाज हित में एक नई सकारात्मक पहल बताया।
  • जाट महासभा राजस्थान के प्रदेशाध्यक्ष श्री राजाराम मील ने कहा कि निकट भविष्य में जमाना तेजा फाउंडेशन की सफलता में चार चाँद लगते देखेगा ।
  • राजस्थान सिविल सेवा अपील अधिकरण के सदस्य श्री जस्साराम चौधरी ने फाउंडेशन को समाज के लिए बिल्कुल सही प्लेटफार्म बताया और कहा कि युवाओं को यहाँ सही मार्गदर्शन सुलभ हो रहा है।
  • वरिष्ठ आईपीएस श्री महेंद्र सिंह चौधरी ने फाउंडेशन को कॅरियर का श्रेष्ठ सेंटर बताते हुए कहा कि समर्पण, एकजुटता और उत्कृष्टता इस संस्थान की पहचान है जो समाज को सही दिशा देते हुए उत्तरोत्तर सफलताएं अर्जित करेगा।
सम्मान एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम

समारोह में तेजा क्लासेज में अध्ययनरत रहते हुए विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता अर्जित करने वाले विद्यार्थियों का सम्मान किया गया। तेजा फाउंडेशन के कोचिंग प्रोजेक्ट के तहत युवा पीढ़ी के सुनहरे भविष्य के निर्माण और सामाजिक विकास के रचनात्मक कार्यक्रम में सहयोगी दानदाताओं का इस समारोह में विशेष अभिनंदन किया गया। कार्यक्रम आयोजन के लिए भव्य एवं विशाल परिसर निःशुल्क सुलभ करवाने वाले हरि वन पैलेस के मालिक श्री सीताराम टोडावत (9314506070) के प्रति विषय तौर से आभार प्रकट करते हुए उनका अभिनन्दन किया गया।

इसके अलावा तेजा फ़ाउंडेशन कोचिंग क्लासेज में फैकल्टी के रूप में विशेष सहयोग देने वाले रघुवीर चौधरी, धर्मेंद्र शर्मा, पुषपेंद्र सिंह, प्रदीप कागट, सुखराम कालीराणा, देवेंद्र खीचड़, सुरेन्द्र सुंडा, दीपक भास्कर, प्रिया दहिया, महेंद्र चौधरी, रवींद्र पचार आदि शिक्षकों को प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।

सांस्कृतिक कार्यक्रम में मनजीत खाल्या का तेजा गायन, बनवारी लाल बाजडोलिया, बीरामाराम का लीलण घोड़ी नृत्य, वीरू डांसर का मटकी नृत्य एवं तेजा क्लासेज में प्रवेशित विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत शिक्षाप्रद नाटक खास आकर्षण का केंद्र रहे।

समारोह में तेजा क्लासेज से प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर विभिन्न नौकरियों में चयनित हुए विद्यार्थीयो ने तेजा क्लासेज की गुणवत्ता एवं वहाँ उन्हें सुलभ हुए पारिवारिक माहौल के बारे में अपने अनुभव साझा किए तथा RAS के लिए फाउंडेशन बैच के विद्यार्थियों ने सफल होने का संकल्प लिया।

समारोह में राजस्थान एवं अन्य प्रांतों से पधारे समाज बंधुओ ने तेजा फाउंडेशन के समाज हितार्थ रचनात्मक कार्यों की सराहना कर टीम का मनोबल बढ़ाया।

कार्यक्रम के सफ़ल आयोजन पर सभी के प्रति आभार प्रदर्शन प्रोफेसर डी.सी. सारण ने किया।

कार्यक्रम का समापन पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद हुए भारतीय वीर जवानों की शहादत को नमन करते हुए दो मिनट का मौन धारण कर किया गया।

कार्यक्रम की एंकरिंग जेवीपी मीडिया ग्रुप के चेयरमैन श्री हरिराम किवाड़ा (जवानियां) ने की।

समारोह में उपस्थित प्रमुख हस्तियां

समारोह में निम्नलिखित प्रमुख हस्तियां उपस्थित थीं:

  • जम्मू कश्मीर जाट महासभा के अध्यक्ष चौधरी मनमोहन सिंह,
  • हरियाणा से श्री जसवीर मलिक,
  • बिहार की मूलनिवासी व वर्तमान में दिल्ली विश्वविद्यालय में कार्यरत प्रोफेसर निधि वत्स,
  • महाराष्ट्र जाट समाज के अध्यक्ष श्री दिलीप बेनीवाल,
  • राजस्थान जाट महासभा के अध्यक्ष श्री राजाराम मील,
  • प्रसिद्ध इतिहासवेत्ता प्रो. पेमाराम,
  • पुलिस महानिरीक्षक श्री महेंद्र सिंह चौधरी,
  • राजस्थान सिविल सेवा अपील प्राधिकरण के सदस्य श्री जस्सा राम चौधरी,
  • दानवीर श्री पाबूराम चौधरी,
  • दानवीर श्री हरिराम मांडा,
  • जाट ऑफिसर्स सोसियल फोरम के कन्वेनर श्री ईश्वर सिंह बुरड़क,
  • वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी सर्व श्री वी. पी. सिंह, लालाराम गूगरवाल,
  • युवा प्रशासनिक अधिकारी संजय गोरा तथा धर्मेन्द्र डूकिया व प्रेरणा कालेर,
  • शिक्षाविद प्रो. विश्वा चौधरी, डॉ जितेंद्र बगड़िया,
  • समाजसेवी आजाद चौधरी, डॉ. उम्मेद सिंह गोदारा, रामचन्द्र सूंडा, लक्ष्मण राम महला, बी. एस. रुहेला, रामनारायण चौधरी, बी.आर. भूकर, सुभीता सीगड़, राजेश झाझड़िया,
  • तेजा फाउंडेशन के कोषाध्यक्ष महेंद्र सिंह भामू,
  • जॉइंट कमिश्नर रामलाल चौधरी,
  • जेवीपी मीडिया ग्रुप के चेयरमैन हरिराम किवाड़ा (जवानियां),
  • फिफ्टी विलेजर्स संस्थान के प्रणेता डॉ. भरत सारण,
  • कारगिल हीरो महावीर चक्र विजेता नायक दिगेंद्र सिंह
  • अनेक अन्य गणमान्य जन ।
तेजा फाउंडेशन वार्षिक समागम 17.3.2019 की पिक्चर गैलरी

तेजा फाउंडेशन कार्यकारिणी के चुनाव 28.7.2019

तेजा फाउंडेशन कार्यकारिणी की बैठक दिनांक 28 जुलाई 2019 को होटल ओम पैलेस जयपुर में हुई जिसमें निम्नानुसार पदाधिकारी सर्वसम्मति से चुने:

1. अध्यक्ष: डॉ. प्रेमाराम Mob: 9414316002

2. उपाध्यक्ष: डॉ. डालचंद सहारण Mob: 9414471412

3. सचिव: रामस्वरूप चौधरी Mob: 7220-01-7220

4. कोषाध्यक्ष महेंद्र सिंह भामू Mob: 8003320077

Resource Persons

  • Bharat Saran - Motivator and Mentor, Email:bharatsaran10@gmail.com, Mob: 9413942612
  • Mahendra Singh Bhamu - Treasurer
  • Pramod Olania - Clear Vision Jaipur
  • Dharmendra Sharma
  • Pushpendar Singh
  • Sukh Ram Kalirana
  • Dr. Devendra Khichar
  • MS Priya Dahiya
  • Mahendra Chaudhary
  • Ravindra Pachar

External links


Back to Jat Organizations